शराबी टीचर नशे की हालत में स्कूल पहुंचे,VIDEO:कहा-ज्यादा पी ली है, बच्चों कल आना, दूसरे ने की अभद्रता, क्लास में ही सो गया

जगदलपुर5 महीने पहले

छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले के 2 अलग-अलग स्कूलों में 2 शिक्षक शराब के नशे में धुत होकर स्कूल पहुंचे। जिन्होंने बच्चों के साथ अभद्रता की। एक तो स्कूल के बरामदे में ही लेट गया। और बच्चों से कहा कि आज ज्यादा पी ली है, कल स्कूल आना। वहीं दूसरा शिक्षक बच्चों को डांटता रहा। स्कूल में मौजूद स्टाफ को अपनी फोटो खींचने के लिए कहा। इस बीच स्कूल के अन्य स्टॉफ ने शिक्षकों की इस हरकत का वीडियो बना लिया है। शिकायत के बाद दोनों शिक्षकों को जिला शिक्षा अधिकारी ने निलंबित कर दिया है।

दरअसल, यह मामला बस्तर जिले के चितलवार और बनिया गांव के प्राथमिक शाला का है। चितलवार के स्कूल में पदस्थ सहायक शिक्षक प्रहलाद सिंह कौशिक और बनिया गांव स्कूल का सहायक शिक्षक उदय सिंह ठाकुर दोनों आदतन शराबी हैं। अक्सर शराब के नशे में स्कूल पहुंचते हैं। स्कूल के अन्य स्टॉफ समेत बच्चों को परेशान करते रहते हैं। जब स्कूल के दूसरे शिक्षक बच्चों को पढ़ाते हैं तो ये क्लास रूम में बच्चों के पीछे चटाई लगाकर शराब के नशे में सोए रहते हैं। दोनों स्कूलों के स्टॉफ का कहना है कि जब इनसे दारू पीकर स्कूल आने मना किया जाता है तो वे उल्टा इन्हीं पर चढ़ाई कर बैठते हैं।

स्कूल के बरामदे में ही लोट-पोट होता रहा।
स्कूल के बरामदे में ही लोट-पोट होता रहा।

बच्चों ने किया विरोध
क्लास के वक्त जब एक शिक्षक शराब के नशे में था और वह बच्चों को पढ़ाने की बजाए स्कूल के बाहर यहां-वहां घूम रहा था तो बच्चों ने भी इसका विरोध किया। स्कूल के सभी बच्चों ने शिक्षक को चिल्लाया और कहा कि वे शराब पीकर स्कूल न आएं। जिसके बाद शराबी शिक्षक भी बच्चों को डांटने लगा। हालांकि, स्कूल में मौजूद अन्य स्टाफ ने शराबी शिक्षक को घर जाने को कहा।

ग्रामीण बोले- ऐसे शिक्षकों से होती है शिक्षा खराब
शिक्षकों की शराब के नशे में तमाशा करते हुए की वीडियो सामने आने के बाद बनिया गांव और चितलवार इन दोनों गांव के ग्रामीण भी काफी आक्रोश में हैं। ग्रामीणों ने प्रशासन से अपील की है कि ऐसे शिक्षकों को वे स्कूल से बेदखल कर दें। शिक्षक स्कूल में शराब पीकर आकर इस तरह से यदि तमाशा करेंगे तो स्कूल का माहौल खराब होगा। इसका बच्चों पर बुरा असर पड़ेगा। बच्चे पढ़ाई नहीं कर पाएंगे।

शराबी शिक्षक बच्चों को डांटने लगा।
शराबी शिक्षक बच्चों को डांटने लगा।

जिला शिक्षा अधिकारी बोलीं- शिकायत मिली तो हुई कार्रवाई
जिला शिक्षा अधिकारी भारती प्रधान ने कहा कि, जैसे ही इस मामले की जानकारी मिली सबसे पहले जांच करवाई गई। तथ्य मिलने के बाद दोनों शिक्षकों पर निलंबन की कार्रवाई की गई है। उन्होंने कहा कि जिले के सभी BEO को निर्देश दिया गया है कि यदि किसी भी स्कूल से इस तरह की शिकायतें मिलती है तो तत्काल संज्ञान में लें और उन पर कार्रवाई करें।