कूकर में जेवर डालकर ठगी करने वाला गिरफ्तार:महिला से कहा था 2 सिटी के बाद खोलना, खोला तो गायब थे गहने; पुलिस ने 4 दिन के अंदर कोलकाता से किया गिरफ्तार

जगदलपुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जगदलपुर में महिला से सोने के जेवरात की ठगी कर फरार होने वाले एक ठग को बस्तर पुलिस ने कलकत्ता से गिरफ्तार किया है। - Dainik Bhaskar
जगदलपुर में महिला से सोने के जेवरात की ठगी कर फरार होने वाले एक ठग को बस्तर पुलिस ने कलकत्ता से गिरफ्तार किया है।

जगदलपुर में महिला से सोने के जेवरात की ठगी कर फरार होने वाले एक ठग को बस्तर पुलिस ने कोलकाता से गिरफ्तार किया है। 20 सितंबर को घटना की जानकारी मिलने के ठीक 4 दिन के अंदर पुलिस ने शुक्रवार को ठग को पकड़ कर सलाखों के पीछे भेज दिया है। कलकत्ता से पकड़े गए ठग अनिल गुप्ता के पास से पुलिस ने ठगी के 2 सोने के कंगन, 1 चेन समेत एक बाइक भी बरामद की है। सोने की अनुमानित कीमत 2 लाख रुपए बताई जा रही है। यह पूरा मामला जगदलपुर सिटी कोतवाली क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, 20 सितंबर को सुभाष वार्ड में रहने वाली महिला कृष्णा देवांगन के घर अनिल गुप्ता पहुंचा। अनिल ने पहले तांबा व चांदी के बर्तन को रासायनिक पदार्थ से साफ कर महिला का दिल जीत लिया। फिर बातों-बातों में ही महिला को उलझा कर सोने के जेवरात को चमकाने की बात कही। महिला ठग की बातों में आ गई और उसे अपने कंगन व चेन को चमकाने को दे दिया। ठग ने महिला के सामने सोने के आभूषण को रासायनिक पदार्थ में मिलाकर प्रेशर कूकर में डाला। काफी देर तक उसे साफ करता रहा।

इसी कंगन व चेन को चमकाने दिया था।
इसी कंगन व चेन को चमकाने दिया था।

अनिल ने कृष्णा देवांगन को प्रेशर कुकर का ढक्कन लगा कर पानी उबालने को कहा था। अनिल ने महिला को 1 से 2 सीटी आने के बाद ही कुकर खोलने को कहा था। जिसके बाद खुद मौके से रफू चक्कर हो गया था। कुछ देर बाद जब कृष्णा ने कुकर का ढक्कन खोला और पानी को ठंडा कर देखा तो उसके होश उड़ गए थे। क्योंकि कुकर के अंदर केवल मटमैला पानी ही था ,सोने के जेवरात गायब थे। इसके बाद महिला ने शोरगुल कर आस-पड़ोस के लोगों को इकठ्ठा किया। इस मामले की शिकायत पुलिस से भी की गई।

पुलिस ने खंगाले सीसीटीवी कैमरे
जगदलपुर नगर पुलिस अधीक्षक हेमसागर सिदार ने बताया कि, महिला की शिकायत के बाद थाना प्रभारी एमन साहू के साथ मिलकर एक टीम गठित की गई। जिसके बाद वार्ड में जहां-जहां कैमरे लगे हुए हैं उनको खंगाला गया था। आस-पड़ोस के लोगों से बाहरी व्यक्तियों के बारे में जानकारी ली गई थी। कैमरों की जांच में पुलिस को पश्चिम बंगाल का बाइक का नंबर दिखा। जिससे पता चला कि, बाइक कोलकाता की है। पुलिस ने बाइक नंबर की पूरी जानकारी इकठ्ठी कर टीम को कलकत्ता भेजा। जहां से ठग अनिल गुप्ता को गिरफ्तार किया गया है।

खबरें और भी हैं...