7 राज्यों की साइकिल यात्रा कर छत्तीसगढ़ पहुंचे विशाल:यात्रा का उद्देश्य- जीवन की वास्तविकता को समझना

जगदलपुर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
511 दिनों की यात्रा कर जगदलपुर पहुंचे नागपुर के विशाल डेकाटे। - Dainik Bhaskar
511 दिनों की यात्रा कर जगदलपुर पहुंचे नागपुर के विशाल डेकाटे।

उम्र 22 साल और इस उम्र में जहां युवा अपने करियर को तलाशने की जद्दोजहद में लगा होता है, वहीं महाराष्ट्र के नागपुर का युवक जिंदगी के खट्‌टे-मीठे और कड़वे अनुभव लेने भारत भ्रमण पर निकल चुका है। इनसर्च ऑफ लाइफ अभियान चलाते हुए बीते 511 दिनों से वे अपनी साइकिल से 7 राज्यों को नापने के बाद आठवें राज्यों के रूप में शनिवार की सुबह ओडिशा के कोटपाड़ के रास्ते छत्तीसगढ़ पहुंचे।

बताया जाता है कि युवक अपने घर से सिर्फ अगले 3 महीनों में महाराष्ट्र की सैर कर वापस लौटने के लिए सामान बांधा और साइकिल लेकर निकल पड़े थे, लेकिन जैसे ही उन्होंने महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों से अपनी यात्रा खत्म की, वे गोवा के रास्ते कनार्टक की तरफ निकल गए। इस बीच मिलने वाले अनेक लोगों से उन्हें कई तरह के अनुभव मिले हैं।

युवक बताते हैं कि बीते 511 दिनों में उन्होंने मानवीयता के कई चेहरे देखे हैं, जिसमें कहीं लोग मदद करने वाले भी मिले तो कहीं ऐसे लोग भी मिले, जिन्होंने कभी दूसरे के दु:ख-तकलीफों से कोई फर्क ही नहीं पड़ा। जीवन के इन्हीं रंगों के अनुभव के लिए उन्होंने साल 2020 की 13 जून को अपनी साइकिल यात्रा शुरू की। जगदलपुर पहुंचे विशाल ने सबसे पहले माईं दंतेश्वरी के दर्शन किए।

रोजाना औसत 100 किमी की यात्रा
विशाल बताते हैं कि उन्होंने रोजाना औसतन 100 किमी की साइकिलिंग करना तय किया है। ऐसे में बीते 500 दिनों में वे करीब 50 हजार किमी से ज्यादा यात्रा कर चुके हैं। इस बीच कोविड काल में पुणे में 2 महीनों तक एक कंपनी में अकाउंटेंट की नौकरी की, वहीं कर्नाटक के एक होटल में वेटर के रूप में भी उन्होंने काम किया।

बीबीए से स्नातक होने के बाद किताब लिखी
नागपुर के रहने वाले विशाल टेकाडे बताते हैं कि बीबीए में स्नातक होने के बाद उन्होंने एक किताब लिखी, जिसमें उन्होंने जीवन के कई आयामों को शामिल किया है। रीबॉर्न विदिन नाम की उनकी ये पुस्तक प्रकाशित हो चुकी है, लेकिन इस किताब में लिखी बातों को परखने उन्होंने साइकिल यात्रा शुरू की है।

खबरें और भी हैं...