भीमा मंडावी सहित 3 नक्सलियों ने किया सरेंडर:3 लाख रुपए के इनामी नक्सली पुनमे ने सरकार के समक्ष डाले हथियार, दंतेवाड़ा में भी दो ने माओवाद संगठन से किया तौबा

जगदलपुर/दंतेवाड़ा5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जगदलपुर संभागीय मुख्यालय में बस्तर IG सुंदरराज पी के समक्ष 3 लाख रूपए के इनामी नक्सली पुनमे राजेश ने सरेंडर किया है। - Dainik Bhaskar
जगदलपुर संभागीय मुख्यालय में बस्तर IG सुंदरराज पी के समक्ष 3 लाख रूपए के इनामी नक्सली पुनमे राजेश ने सरेंडर किया है।

नक्सल विरोधी अभियान के तहत रविवार को जगदलपुर व दंतेवाड़ा में 1 इनामी सहित कुल 3 माओवादियों ने सरकार के समक्ष अपने हथियार डाले हैं। दंतेवाड़ा के किरंदुल थाना में सरेंडर करने वाले 2 नक्सलियों में से एक DRG जवानों के घर लूटपाट करने की घटना में शामिल रहा है। वहीं जगदलपुर में 3 लाख रुपए के एक इनामी नक्सली ने माओवाद संगठन से तौबा कर मुख्यधारा में लौट आया है।

हार्डकोर नक्सली संजू के गनमेन ने किया सरेंडर

जगदलपुर संभागीय मुख्यालय में बस्तर IG सुंदरराज पी के समक्ष 3 लाख रूपए के इनामी नक्सली पुनमे राजेश ने सरेंडर किया है। पुनेम नक्सलियो के कांगेर घाटी एरिया कमेटी के सचिव हार्डकोर नक्सली संजू का गनमेन था। साल 2019 में नक्सकी संजू ने इसे केरलापाल में माओवादी जयलाल के संगठन में शामिल किया था। जयलाल की टीम के साथ लगभग 5 से 7 महीने काम करने के बाद इसे पश्चिम बस्तर क्षेत्र में भ्रमण के लिए भेजा जाता था। वहीं साल 2020 में फिर इसे मलांगिर एरिया कमेटी में भी शामिल किया गया था।

इसकी सक्रियता को देखते हुए माओवादी संजू ने इसे कांगेर घाटी एरिया कमेटी में सदस्य के रूप में वापस लाया और अपना गनमेन बना लिया। लेकिन माओवादियों की खोखली विचारधारा से तंग आकर पुनेम सरकार के समक्ष हथियार डालकर मुख्यधारा में लौट आया है। बस्तर IG सुंदरराज पी ने पुनेम के सरेंडर को अपनी एक बड़ी कामयाबी बताई है। इससे कई बड़े खुलासे होने की संभावना भी पुलिस जता रही है।

दंतेवाड़ा पुलिस के द्वारा चलाए जा रहे लोन वर्राटू अभियान से प्रभावित होकर 2 जनमिलिशिया सदस्यों ने आत्मसमर्पण किया है।
दंतेवाड़ा पुलिस के द्वारा चलाए जा रहे लोन वर्राटू अभियान से प्रभावित होकर 2 जनमिलिशिया सदस्यों ने आत्मसमर्पण किया है।

दंतेवाड़ा में 2 मिलिशिया सदस्य ने किया सरेंडर

दंतेवाड़ा पुलिस के द्वारा चलाए जा रहे लोन वर्राटू अभियान से प्रभावित होकर 2 जनमिलिशिया सदस्यों ने आत्मसमर्पण किया है। आत्मसमर्पित नक्सली भीमा मंडावी व जोग मंडावी नक्सलियों के दरभा डिवीजन के मलांगिर एरिया कमेटी में पिछले कई वर्षों से सक्रिय थे। वहीं सरेंडर नक्सली भीमा मंडावी साल 2020 में गुमियापाल गांव में DRG जवानों के घर से अनाज, मवेशी सहित अन्य सामान लूटपाट करने की घटना में शामिल था।

वहीं जोगा मंडावी 2015 में खुटियापार चोलनार के पास IED लगा कर एन्टीलैंड माइंस वाहन को ब्लास्ट करने की घटना में शामिल था। इन दोनों माओवादियों के सरेंडर को दंतेवाड़ा पुलिस ने अपनी बड़ी कामयाबी मानी है। SP डॉ अभिषेक पल्लव के अनुसार जिले में चलाए जा रहे लोन वर्राटू अभियान का पुलिस को बड़ा फायदा मिला है। अब तक 101 इनामी सहित कुल 381 माओवादी इस अभियान के तहत सरकार के समक्ष हथियार डाल चुके हैं।

खबरें और भी हैं...