• Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Jagdalpur
  • Said Neither Giving Water Nor Roads, But Capturing Day By Day, Chhag And The Government Of India Are Getting The Benefit, The People Of Dantewada Are Drinking Red Water

NMDC पर बरसे मंत्री कवासी लखमा:कहा- न पानी दे रहे और न सड़क, सिर्फ कब्जा कर रहे हैं; दंतेवाड़ा की जनता प्रदूषित लाल पानी पीने को मजबूर है

जगदलपुर2 महीने पहले
मंत्री कवासी लखमा ने दंतेवाड़ा के किरंदुल में प्रेस से बात करते हुए ये बयान दिया है।

छत्तीसगढ़ के आबकारी और दंतेवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा नेशनल मिनरल डेवलपमेंट कारपोरेशन (NMDC) पर जमकर बरसे हैं। उन्होंने कहा है कि NMDC से छत्तीसगढ़ और भारत सरकार को फायदा हो रहा है। लेकिन यहां के लोग लाल पानी पी रहे हैं। साफ पानी और सड़क की मांग करो तो NMDC नहीं देती है। वह सिर्फ यहां दिनों दिन कब्जा जमा रही है।

उन्होंने कहा कि, मुझे दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि छत्तीसगढ़ गठन को लगभग 20 साल से ज्यादा हो गए हैं। इसके बावजूद,जिस तरह से किरंदुल नगर पालिका समेत जिले को NMDC का फायदा मिलना चाहिए। वह नहीं मिल रहा है। वे हाईकोर्ट का नाम लेकर यहां विकास नहीं कर रहे हैं। स्थानीय विधायक देवती कर्मा, सांसद दीपक बैज के साथ मिल कर मैं खुद इस मामले को उठाऊंगा। CM भूपेश बघेल के सामने यह मामला रखूंगा। शासन स्तर से समस्या का समाधान कराएंगे। दंतेवाड़ा की धरती में करोड़ों रुपए का बिजनेस चल रहा है, लेकिन यहां के लोगों को कुछ नहीं मिल रहा है।

तीन साल में CM ने किए कई बड़े काम
कवासी लखमा ने दंतेवाड़ा में पत्रकारों से चर्चा में कहा कि, भूपेश बघेल हिंदुस्तान के पहले ऐसे CM हैं, जिन्होंने सरकार बनने के अंदर लगभग तीन साल में कई बड़े-बड़े काम किए हैं। जिनमें किसानों का कर्जा माफी, राजीव गांधी किसान न्याय योजना का फायदा, तेंदूपत्ता का 4 हजार रुपए देने की बात हो, या फिर भूमिहीन किसान को 6 हजार रुपए देने की बात हो। इन सब कामों को भूपेश बघेल ने किया है। हालांकि कुछ काम और बचे हैं जो कोरोना की वजह से रुके हुए हैं। वो काम भी जल्द पूरे किए जाएंगे। बेरोजगर युवाओं की विभिन्न पदों पर भर्ती भी होगी।

15 सालों तक भाजपा ने आदिवासियों को ठगा
कवासी लखमा ने भाजपा पर भी निशाना साधते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में 15 सालों तक भाजपा की सरकार थी। उन्होंने विकास के नाम पर केवल आदिवासियों को ठगा है। बस्तर के आदिवासियों के पास आधार कार्ड, वोटर आईडी, राशन कार्ड भी नहीं था। न ही बुजुर्गों को वृद्धा पेंशन दी जा रही थी। कांग्रेस की सरकार आने के बाद अंदरुनी गांवों में शिविर लगा कर ग्रामीणों के सभी सरकारी दस्तावेज भी बनाए जा रहे हैं।

NMDC दंतेवाड़ा में क्या करती है?
दंतेवाड़ा में स्थित NMDC (National Mineral Development Corporation) बैलाडीला की पहाड़ियों से लौह खनन का काम करती है। यहां से करोड़ों रुपए का कच्चा लोहा हर महीने निकाल कर विदेशों में भी सप्लाई करती है। NMDC की दंतेवाड़ा में 2 यूनिट हैं, जिनमें एक बचेली तो दूसरा किरंदुल। यहां से लोहा ले जाने के बदले NMDC को अपने दायरे में स्थित गांवों व जिलों के विकास का काम करना होता है।

ग्रामीणों ने कई बार NMDC पर उनके क्षेत्रों में विकास नहीं करने का भी आरोप लगाया है। 10 दिन पहले ही जिले के 7 पंचायत के युवाओं ने NMDC को सचेत किया है कि यदि बेरोजगार युवाओं को NMDC रोजगार नहीं देती है तो युवाओं के द्वारा एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा। इसके पहले भी NMDC नगर पालिका किरंदुल के बीच टकराव की बात भी सामने आती रही है।

खबरें और भी हैं...