लाल आतंकियों का जवानों पर गंभीर आरोप:पर्चा जारी कर कहा- सुरक्षाबलों ने ग्रामीण के घर से पैसे और सामान लूट लिए, IG बोले-फोर्स को बदनाम करने की कोशिश कर रहे माओवादी

जगदलपुर/सुकमाएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नक्सलियों के कोंटा एरिया कमेटी की तरफ से इस तरह का पर्चा जारी किया गया है। - Dainik Bhaskar
नक्सलियों के कोंटा एरिया कमेटी की तरफ से इस तरह का पर्चा जारी किया गया है।

नक्सलियों के कोंटा एरिया कमेटी ने पर्चा जारी कर जवानों पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। पर्चे के माध्यम से नक्सलियों ने सुरक्षाबलों पर ग्रामीण के घर से पैसे, सामान लूटने समेत कई आरोप लगाए हैं। पर्चे में यह भी कहा गया है कि पुलिस गांवों पर हमला कर रही है और निर्दोष ग्रामीणों की पिटाई कर उन्हें जबरन नक्सली बता कर सरेंडर करने को कह रही है। वहीं इसे पर्चे को लेकर बस्तर IG सुंदरराज पी ने कहा है कि माओवादी फोर्स को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं।

अंदरूनी गांवों पर ऑपरेशन लॉन्च किया गया

नक्सलियों की ओर से जारी पर्चे में लिखा गया है कि 2 जुलाई को सुकमा जिले के चिंतागुफा पोलमपल्ली थाना क्षेत्र के सभी पुलिस कैंप से संयुक्त रूप से अंदरूनी गांवों पर ऑपरेशन लॉन्च किया गया था। इस ऑपरेशन में CRPF, DRG, STF व कोबरा बटालियन के लगभग 300 से ज्यादा जवान शामिल थे। सुरक्षाबलों ने पिड़मेल, रंगईगुड़ा ,रामाराम व करिगुंडम में एक साथ हमला किया था। नक्सलियों का आरोप है कि जवानों ने इसी दौरान पिड़मेल के रहने वाले मुचाकी हूंगा के घर में अचानक दबिश दी थी।

CRPF जवानों ने माओवादी स्मारक तोड़ा:सुकमा में नक्सलियों ने बना रखा था स्मारक, जवानों ने देखा तो IED ब्लास्ट कर किया ध्वस्त; इलाके में सर्च अभियान जारी

33 हजार रुपए, शराब और इमली लूटने का आरोप

नक्सलियों का आरोप है कि मुचाकी हूंगा के घर से जवानों ने 33 हजार 60 रुपए, 25 किलो इमली व 10 बोतल महुआ शराब लूट लिया है। इसके साथ ही घर में रखे तीर-धनुष, कपड़ा, छुरी व टार्च को भी हूंगा के घर से लूटने का आरोप मावोदियों ने लगाया है। इतना ही नहीं पर्चे में नक्सलियों ने जवानों पर ग्रामीण के घर में रखे बरतनों को भी तोड़ने का आरोप लगाया है। इसके अलावा पर्चे में पुलिस पर जबरदस्ती ग्रामीणों को धमकी देकर सरेंडर करने की भी बात लिखी गई है।

नक्सलियों ने इन जवानों पर लगाया आरोप

नक्सलियों ने पर्चा के माध्यम से कुछ जवानों के नाम का भी जिक्र किया है। इनमें चिंतागुफा थाना प्रभारी सहित पिड़मेल निवासी DRG जवान मुचाकी देवा, कवासी प्रकाश, अरलमपल्ली के माड़वी बुधरा, पालामड़गु के सरियम मोटू समेत ऑपरेशन में शामिल कई जवानों पर लूटपाट व धमकी देने का आरोप लगाया है। इधर पिड़मेल गांव के 25 ग्रामीणों की गिरफ्तार करने, कवासी मासा व मड़कम आयता की बेहरमी से पिटाई करने का आरोप भी पर्चा के माध्यम से नक्सलियों ने लगाया है।

फोर्स को बदनाम कर रहे हैं नक्सली - IG

बस्तर IG सुंदरराज पी ने कहा कि नक्सली फोर्स को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं । गांव में सुरक्षबलों के द्वारा ग्रामीणों के घर से किसी तरह की कोई लूट नहीं की गई है और ना ही किसी भी ग्रामीणों को पीटा गया है। फोर्स को बदनाम करने की यह नक्सलियों की साजिश है। जवानों पर बेबुनियाद आरोप नक्सली लगा रहे है।

खबरें और भी हैं...