पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोना काल में शिक्षा:नक्सलगढ़ कोयम में लाउडस्पीकर से हो रही पढ़ाई

जगदलपुर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीजापुर के धुर नक्सल प्रभावित ग्राम पंचायत बेंगलुरु के कोयम गांव में लाउडस्पीकर से पढ़ रहे बच्चे

बस्तर जिले के भाटपाल ग्राम पंचायत से शुरू हुई लाउडस्पीकर से पढ़ाई की योजना अब पूरे प्रदेश में लागू हो रही है। सरकारी व्यवस्था से पहले ही बीजापुर जिले के भैरमगढ़ ब्लॉक के ग्राम पंचायत बेंगलुरु के आश्रित ग्राम कोयम में सहायक शिक्षक पवन कुमार सिन्हा ने अपने खर्च पर लाउडस्पीकर से पढ़ाई शुरू करवाई है। भैरमगढ़ ब्लॉक का यह गांव शत-प्रतिशत नक्सल प्रभावित क्षेत्र है। जहां उनकी मर्जी के बगैर कोई सरकारी योजना नहीं चलती। इसके बावजूद शिक्षक ने बच्चों को पढ़ाने का जोखिम उठा रखा है। सुबह 10 बजे अरपा पैरी के धार...से पढ़ाई शुरू होती है। दोपहर 12 बजे तक लोककथा, लोक गीत के साथ स्वच्छता, सुपोषण, समाज कल्याण व अन्य योजनाओं के बारे में स्थानीय बोली के माध्यम से जानकारी प्रसारित की जाती है। कोरोना महामारी के संक्रमण की वजह से मार्च से स्कूल बंद है ना तो स्कूलों की घंटियां सुनाई देती है अन्य बच्चों का शोरगुल इस नक्सल प्रभावित आदिवासी क्षेत्र में इंटरनेट और नेटवर्क की बड़ी समस्या है जिसके चलते ऑनलाइन पढ़ाई भी संभव नहीं है शालाओं को बंद रखना शिक्षकों को भी रास नहीं आ रहा है। बेवजह घर पर बैठे रहने के बजाय शिक्षकों ने अपने अपने ढंग से नवाचारी कर बच्चों तक पहुंच बनाने का प्रयास किया है।

भाटपाल के बारे सुन वहीं से मिली प्रेरणा
शिक्षक पवन कुमार सिन्हा के मुताबिक उन्होंने भाटपाट पंचायत में रेडियो कनेक्टिविटी के तहत लाउडस्पीकर से पढ़ाई के बारे में सुना। उन्होंने इसे अपने गांव में भी लागू करने का फैसला किया। शिक्षक के मुताबिक गांव में 25 मकान और यहां की कुल आबादी 213 है। गांव में एक भी पालक पढ़ा लिखा नहीं है। प्राइमरी स्कूल में 16 बच्चे दर्ज हैं। गांव के बाहर पोटा केबिन, आश्रम शाला में पढ़ने गए बच्चे भी यहां लौट आए हैं। जो लाउडस्पीकर से हल्बी, हिंदी में हो रही पढ़ाई में शामिल हैं। यहां कोविड-19 के बारे में भी विस्तार से जानकारी दी जा रही है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - धर्म-कर्म और आध्यामिकता के प्रति आपका विश्वास आपके अंदर शांति और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर रहा है। आप जीवन को सकारात्मक नजरिए से समझने की कोशिश कर रहे हैं। जो कि एक बेहतरीन उपलब्धि है। ने...

और पढ़ें