नक्सलियों ने की सड़क बनवा रहे मुंशी की हत्या:नारायणपुर में नक्सलियों ने निर्माण कार्य में लगे JCB, ट्रैक्टर सहित अन्य वाहनों में लगाई आग; PMSY के तहत बन रही थी सड़क

जगदलपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सड़क निर्माण करवा रहे मुंशी की नक्सलियों ने हत्या कर दी है। - Dainik Bhaskar
सड़क निर्माण करवा रहे मुंशी की नक्सलियों ने हत्या कर दी है।

छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में नक्सलियों ने गुरुवार रात जमकर उत्पात मचाया। सड़क निर्माण करवा रहे मुंशी की गला रेत कर हत्या कर दी। वहीं निर्माण कार्य में लगी JCB और ट्रैक्टर सहित अन्य वाहनों में आग लगा दी। वारदात के बाद सड़क निर्माण कार्य बंद कर दिया गया है। नक्सलियों के आमदई एरिया कमेटी ने इस वारदात की जिम्मेदारी ली है। घटना छोटे डोंगर थाना क्षेत्र की है।

निर्माण कार्य में लगी जेसीबी व ट्रैक्टर वाहन समेत एक बाइक को भी आग के हवाले कर दिया है।
निर्माण कार्य में लगी जेसीबी व ट्रैक्टर वाहन समेत एक बाइक को भी आग के हवाले कर दिया है।

नक्सल प्रभावित इलाके मढ़ोनार में करीब ढाई करोड़ की लागत से प्रधानमंत्री सड़क योजना (PMSY) के तहत निर्माण कार्य चल रहा था। इसी दौरान ग्रामीणों की वेशभूषा में नक्सली वहां पहुंच गए। नक्सलियों ने पहले मुंशी संदीप की जमकर पिटाई की और फिर मजदूरों के सामने ही उसका गला रेत कर मार डाला। नक्सली पहले भी इस सड़क के निर्माण कार्य को बंद करने की चेतावनी दे चुके थे।

नक्सलियों ने जगह-जगह पर्चे भी फेंके हैं।
नक्सलियों ने जगह-जगह पर्चे भी फेंके हैं।

जगह-जगह फेंके पर्चे, कहा- निर्माण कार्य बंद करें
इस घटना को अंजाम देने के बाद नक्सलियों ने जगह-जगह पर्चे भी फेंके हैं। पर्चे में लिखा है- सड़क निर्माण कार्य बंद करवाने के लिए पहले भी ठेकेदार व मुंशी को चेतावनी दी गई थी, लेकिन फिर भी लगातार जोर-जबरदस्ती से सड़क निर्माण का काम करवाया जा रहा था। इसे तत्काल बंद किया जाए।

बिना सुरक्षा के चल रहा था सड़क निर्माण का काम
बताया जा रहा है कि, नक्सल प्रभावित इलाके मढ़ोनार में बिना सुरक्षा के काम चल रहा था। हालांकि इसके अलावा जितनी जगहों पर भी निर्माण काम हुए हैं, वो पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था के बीच ही हुए हैं। कुछ दिनों पहले नक्सल ऑपरेशन के स्पेशल DGP ने भी बैठक लेकर विकास कार्यों में सुरक्षा देने के निर्देश दिए थे। बावजूद मढ़ोनार में सड़क निर्माण के दौरान एक भी सुरक्षाकर्मी नहीं थे।

महीने भर पहले भी एक सुपरवाइजर की हुई थी हत्या
छोटे डोंगर थाना क्षेत्र में आमदई घाटी इलाके में स्थित निको जायसवाल कंपनी की लौह अयस्क खदान में एरिया डेवलपमेंट कार्य किया जा रहा था। इस बीच अचानक माओवादी इलाके में पहुंचे और फारिंग शुरू कर दिए थे। साथ ही माओवादियों ने कार्य में लगी एक JCB सहित कुल 4 वाहनों को आग के हवाले कर दिया था। इसके अवाला एक सुपरवाइजर की भी नक्सलियों ने हत्या की थी।