पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Chhattisgarh
  • Raipur
  • Jagdalpur
  • Wearing Greenery Shoot To Save Nature, Now Virendra Singh Is Appealing To People To Plant Saplings By Going From Village To Village On Foot, Said Have To Make Up Nature

पर्यावरण प्रेमी ग्रीन कमांडो:प्रकृति को बचाने पहना हरियाली सूट, पैदल ही गांव-गांव जाकर पौधे लगाने लोगों से अपील कर रहे वीरेंद्र सिंह, कहा-प्रकृति का श्रृंगार करना है

जगदलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
छत्तीसगढ़ के ग्रीन कमांडो वीरेंद्र सिंह ने हरियाली सूट बनवाया है। जिसे पहन कर वे गांव-गांव जा कर लोगों से पर्यावरण को बचाने अपील करे हैं। - Dainik Bhaskar
छत्तीसगढ़ के ग्रीन कमांडो वीरेंद्र सिंह ने हरियाली सूट बनवाया है। जिसे पहन कर वे गांव-गांव जा कर लोगों से पर्यावरण को बचाने अपील करे हैं।

बस्तर के कांकेर जिले के रहने वाले वीरेंद्र सिंह का पर्यवारण के प्रति इतना प्रेम है कि वे अब पैदल ही गांव-गांव जाकर लोगों को पौधे लगाने की अपील कर रहे हैं। इसमें खास बात यह है कि वीरेंद्र सिंह ने हरियाली सूट बनवाया है, जिसे पहन कर पर्यावरण को बचाने लोगों को जागरूक कर रहे हैं। पर्यावरण प्रेमी वीरेंद्र का यह हरियाली सूट लोगों को भी खूब आकर्षित कर रहा है। और यही वजह है कि इन्हें देख लोग इनके पास आ रहे हैं, जिन्हें वीरेंद्र पर्यावरण को बचाने जागरूक कर रहे हैं। वीरेंद्र छतीसगढ़ में ग्रीन कमांडो के नाम से भी जाने जाते हैं।

कई किमी का पैदल सफर तय कर कांकेर जिले के अंदरुनी इलाके पहुंच रहे और ग्रामीणों को पौधे वितरित कर रहे।
कई किमी का पैदल सफर तय कर कांकेर जिले के अंदरुनी इलाके पहुंच रहे और ग्रामीणों को पौधे वितरित कर रहे।

पौधे लगा कर प्रकृति का करना है श्रृंगार

बस्तर में मानसून ने अपनी दस्तक दे दी है। अब मानसून में पौधे लगाने लोगों को जागरूक करने के लिए वीरेंद्र ने अनोखा तरीका अपनाया है। उन्होंने कपड़े का हरियाली सूट बनवाया है, जिसे पहनने के बाद यह एक पेड़ के नमूने की तरह नजर आता है। ग्रीन कमांडो के नाम से चर्चित वीरेंद्र इस हरियाली सूट को पहन कर गांव-गांव पहुंच कर मानसून में लोगों को पौधे लगाने को कह रहे हैं। वीरेंद्र कहते हैं कि जहां हरियाली होती है, वहां खुशहाली होती है। इस लिए धरती में जहां भी खाली जगह दिखे वहां एक पौधा लगा लग प्रकृति का श्रृंगार करें। प्रकृति को और खूबसूरत बनाएं।

कई किमी का किया पैदल सफर

ग्रीन कमांडो वीरेंद्र सिंह हरियाली सूट पहन कर कांकेर जिले के अंदरूनी इलाके वायनर, पररेकोड़ो, हिरगे गांव पैदल ही पहुंचे। यहां पहुंचने के लिए इन्होंने कई किमी का पैदल सफर तय किया। इन गांवों के हरेक घर के ग्रामीणों से बरसात में पौधे लगाने की अपील की। कईयों को पौधे भी वितरित किए। वीरेंद्र पिछले सप्ताह भर से इसी तरह हरियाली सूट पहन कर लोगों को पर्यावरण को बचाने जागरूक कर रहे हैं।

ग्रामीणों के साथ खाली जगह में फलदार वृक्ष के पौधे भी लगा रहे हैं।
ग्रामीणों के साथ खाली जगह में फलदार वृक्ष के पौधे भी लगा रहे हैं।

20 हजार से ज्यादा लगा चुके हैं पौधे

ग्रीन कमांडो वीरेंद्र सिंह छतीसगढ़ के बालोद, भिलाई, दुर्ग, बेमेतरा सहित कांकेर जिले में अब तक 20 हजार से ज्यादा पौधे लगा चुके हैं। जिनमें आम, गुलमोहर सहित अन्य छायादार व फलदार पौधे हैं। इसके अलावा जल संरक्षण के लिए इन्होंने लगभग 35 से ज्यादा तालाबों की सफाई भी की है। वीरेंद्र प्रतिमाह 3 हजार रुपये पर्यावरण को बचाने के लिए खर्च करते हैं।

खुद के लिए जिंदगी तो सब जीते हैं, लेकिन मैं पर्यावरण के लिए जीना चाहता हूं। मुझसे जितना हो पाता है मैं पर्यावरण को बचाने का प्रयास करता हूं। पौधे लगाने व नदियों की सफाई करने के लिए मैं लोगों को प्रेरित करता हूं। पिछले 23 सालों से मैं पर्यावरण को बचाने का प्रयास कर रहा हूं। लेकिन इस मानसून हरियाली सूट पहन कर लोगों को पर्यवारण का महत्व बता कर इसकी सुरक्षा की अपील कर रहा हूं।

-वीरेंद्र सिंह, पर्यावरण प्रेमी

खबरें और भी हैं...