पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:2018 तक बन जाना था बाईपास पर आज भी 50% हो पाया काम

कांकेर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नंदनमारा से सिंगारभाठ तक 308 करोड़ से हो रहा है निर्माण

कांकेर बाईपास रोड का निर्माण काम दो वर्ष में बन जाना था, लेकिन कांकेर बाईपास रोड का निर्माण काम अभी तक पूरा नहीं हो पाया है। ऐसे एनएचडीपी विभाग का कहना है कि एक वर्ष में बायपास रोड का निर्माण काम पूरा हो जाएगा।
कांकेर बाईपास रोड का निर्माण काम अभी तक पूरा हो जाना था, लेकिन निर्माण काम काफी विलंब से किया जा रहा है और इसमें काफी विलंब हो रहा है। कांकेर बाईपास रोड का निर्माण काम ग्राम नंदनमारा से सिंगारभाठ तक 308 करोड़ लागत से हो रही है। अगस्त 2016 में निर्माण काम की स्वीकृति हुई थी। इसमें अगस्त 2018 तक कांकेर बायपास रोड का निर्माण काम पूरा हो जाना था, लेकिन दो वर्ष विलंब होने के बाद भी निर्माण काम पूरा नहीं हो पाया है।
6 बार नोटिस दिया जा चुका है : सड़क का निर्माण चेन्नई के श्रीराम कंपनी करा रही है। निर्माण काम धीमी होने को लेकर उच्च कार्यालय से 6 बार कंपनी को नोटिस दिया जा चुका है।

10.5 किमी में से अभी 5 किमी का ही काम हुआ
साढ़े 10 किमी का सड़क निर्माण काम पूरा होना है, जिसमें से 5 किमी में ही डामर का निर्माण काम हो पाया है। अभी निर्माण काम 50 प्रतिशत ही पूरा हो पाया है। संबंधित विभाग के अनुसार 16 जगह पर पुल का निर्माण काम होना है। इसमें से नंदनमारा से सिंगारभाठ तक10 पाइप पुलिया बन गई है।

बारिश में आना-जाना बंद
गर्मी के मौसम में बड़े वाहनों का आवागमन हो रहा था, लेकिन अभी बारिश में दो पहिया वाहनों के आवागमन को लेकर भी काफी दिक्कत लोगों को हो रही है और इस कारण बड़े वाहनो के साथ बाइक वाले भी काफी कम आवागमन कर रहे हैं। अभी पुल निर्माण वाले डायवर्सन रोड में बारिश की वजह से कीचड़ बना हुआ है।

सालभर में काम पूरा हो जाएगा: एसडीओ
कांकेर एनएचडीपी के कांकेर एसडीओ संतोष नेताम ने कहा दो वर्षो में निर्माण काम पूरा हो जाना था। समय पर काम कराने को लेकर कई बार नोटिस शासन से निर्माण एजेंसी को दिया गया है। अभी 50 प्रतिशत काम हो पाया है। सालभर में निर्माण काम पूरा हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...