1 दिन में 4 नए मरीज / एक स्वास्थ्य विभाग का कर्मचारी, 3 लोग मुंबई, हैदराबाद, जबलपुर से आए

A health department employee, 3 people came from Mumbai, Hyderabad, Jabalpur
X
A health department employee, 3 people came from Mumbai, Hyderabad, Jabalpur

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

कांकेर. बस्तर संभाग के कांकेर जिले में पहला कोरोना मरीज मिलने के दूसरे दिन शुक्रवार को चार नए मरीज मिले। इनमें दो मरीज शहर से सटे गांव से हैं, जिनका शहर में आना-जाना था। इनमें से एक स्वास्थ्य विभाग का कंप्यूटर आपरेटर है। मरीजों के शहर से जुड़े होने के कारण दोपहर में पूरा शहर बंद करा दिया गया। नए मरीज जिन लोगों के संपर्क में आए हैं उनका भी सैंपल लिया जा रहा है। 
जिले में कोरोना मरीजों की संख्या 5 पहुंच गई। शुक्रवार को जो चार नए मरीज मिले हैं उनमें मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग कार्यालय का कर्मचारी दसपुर का रहने वाला है। दूसरा कोरोना मरीज शहर के उदयनगर से लगे ठेलकाबोड़ के मावलीनगर में अपने बहन के घर पिछले कुछ दिनों से रह रहा था। यह युवक पीढ़ापाल के ग्राम किरगापाटी का रहने वाला है, जो जबलपुर से लौटा था। तीसरा मरीज दुर्गूकोंदल विकासखंड के हाटकोंदल का रहने वाला है, जो मुंबई से लौटने के बाद हाटकोंदल के बरगांव क्वारेंटाइन सेंटर में 8 लोगों के साथ रह रहा था। चौथा मरीज धनेलीकन्हार इलाके के सुरेली का है, जो कुछ दिन पहले ही हैदराबाद से लौटा था। प्रशासन ने टोटल लॉकडाउन का एलान करते शहर बंद करा दिया। स्वास्थ्य विभाग कर्मचारी के गांव दसपुर को सील कर दिया गया है। इसी तरह ठेलकाबोड़, हाटकोंदल व सुरेली को भी सील किया गया है। 
35 कर्मचारी हाेटल ग्रीन पॉम में क्वारेंटाइन
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कार्यालय का कंप्यूटर आपरेटर कोरोना पाॅजिटिव पाए जाने के बाद कार्यालय को सील कर दिया गया। आपरेटर जिला अस्पताल के टीबी विभाग में पदस्थ है। सीएमएचओ कार्यालय के कोरोना कंट्रोलरूम में उसकी ड्यूटी लगाई गई थी। कार्यालय के 35 लोगों का सैंपल लिया गया। इन कर्मचारियों को होटल ग्रीन पाम में बने क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया है। यहीं से वे कार्यालयीन कार्य करेंगे।
चारों को एक साथ शाम 6 बजे भेजा गया रायपुर : चारों मरीजों को एक साथ शाम 6 बजे कोविड हॉस्पिटल माना-रायपुर भेजा गया। शाम 5 बजे तक स्वास्थ्य विभाग कार्यालय के आपरेटर तथा मावलीनगर का मरीज अपने घर पर ही मौजूद था। 
पत्नी का धमतरी से चेकअप करा लौटा था कर्मचारी
नए मरीजों की ट्रेवल हिस्ट्री की पड़ताल विभाग कर रहा है। स्वास्थ्य विभाग के आपरेटर कुछ दिन पहले गर्भवती पत्नी का चेकअप कराने धमतरी के क्रिश्चन अस्पताल बठेना गया था। वहां से आने के बाद उसे सर्दी-खांसी थी। जिला अस्पताल में जांच कर उसका स्वॉब सैंपल लिया गया था। हालांंकि धमतरी में एक भी पाॅजिटिव केस नहीं मिला है फिर कर्मचारी कहां व कैसे संक्रमित हुआ, यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। 
आगामी आदेश तक टोटल लाॅकडाउन : कलेक्टर केएल चौहान ने कहा कोरोना मरीज मिलने के बाद कांकेर शहर में आगामी आदेश तक के लिए टोटल लाॅकडाउन किया गया है। टोटल लाॅकडाउन का कड़ाई से पालन किया जाएगा।
पुलिस में तैनात जीजा के साथ रह रहा था युवक
मावलीनगर का कोरोना मरीज युवक जबलपुर में बैंकिंग कोचिंग कर रहा है। 11 मई को एक टूरिस्ट बस से 12 लोगों के साथ कांकेर के लिए रवाना हुआ। बस में सवार सभी छत्तीसगढ़ के ही लोग थे। युवक जबलपुर से मनेंद्रगढ़, सुरजपुर, अंबिकापुर, रायगढ़, सिरपुर होते धमतरी पहुंचा। पुरूर में युवक को उतार बस बालोद होते आगे बढ़ गई। यहां से युवक मजदूरों को रायपुर छोड़ कांकेर आ रही बस में सवार हो गया, जिसमें एक दो लोग ही थे, जिनकी पहचान नहीं हो पाई है। 12 मई को युवक पीजी काॅलेज के सामने बस से उतरकर अपने बहन के घर मावलीनगर चला गया। 13 मई को जिला अस्पताल में उसका सैंपल लिया गया। युवक पुलिस में तैनात अपने जीजा के साथ रह रहा था। इस दौरान उसका जीजा ड्यूटी पर जा रहा था। 
एक मजदूर क्वारेंटाइन सेंटर में था तो एक घर में 
हाटकोंदल में पाया गया मरीज 17 मई को मुंबई से अपने पांच साथियों के साथ हाटकोंदल लौटा था। सभी को क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया था। सेंटर में कुल 8 लोग हैं। सभी का सैंपल लिया गया था, जिसमें युवक को कोरोना पाॅजिटिव पाया गया। सुरेली का मरीज हैदराबाद से आया था और वह अपने घर में ही रह रहा था। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना