पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

काउकैचर में फंस रही गाड़ी और लोगों के पैर:बस स्टैंड के मुहाने पर बिना नापजोख के बनाया गया है काउकैचर, गुरुवार रात को भी हादसा

कांकेरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर में नाली निर्माण के साथ ही पुराना बस स्टैंड के मुहाने पर बनाया गया काउ कैचर अब शहरवासियों के लिए मुसीबत बन गया। बिना नापजोख के बने काउ कैचर में बाइक के पहिए के साथ साथ लोगों के पैर फंस रहे हैं। दो दिन पहले ही इसका निर्माण हुआ और उसी दिन से काउ कैचर समेत नगर पालिका व ठेकेदार की खामियां नजर आने लगी हैं। इससे कभी भी बड़ा हादसा हो सकता है।

गुरुवार रात 9 बजे सौराष्ट्र ट्रैक्टर कंपनी में काम करने वाला युवक रितेश पवार किसी काम से पुराने बस स्टैड पहुंचा था।लौटते समय काउ कैचर के पाइप में युवक की बाइक के पहिए फंस गए। वह संतुलन खाे बैठा। बाइक को संभालने जैसे ही पैर नीचे रखा काउ कैचर के बीच जगह ज्यादा होने के कारण पैर उसके अंदर फंस गया। युवक बाइक से गिर गया और उसका पैर पाइप में फंस गया। निकालने कोशिश की गई लेकिन वह नहीं निकला। देखते देखते वहां भारी भीड़ जमा हो गई और ट्रैफिक पुलिस भी पहुंच गई। युवक का फंसा पैर निकालने कोशिश की गई लेकिन वह नहीं निकला। तत्काल कटर व अन्य सामान मंगवाए गए। इसी दौरान युवक के पैर व पाइप में तेल डाला गया जिससे पैर फिसलकर बाहर आ गया। इसके बाद युवक समेत लोगों ने राहत की सांस तो ली लेकिन मौके पर ही काउ कैचर व नगरपालिका के कार्य को लेकर सवाल उठने लगे।

मलबा निर्माण सामग्री भी बनी मुसीबत
शहरवासियों ने कहा जब से नाली का निर्माण किया जा रहा है तब से निर्माण सामग्री बेतरतीब तरीके से सड़क पर ही रख दी गई है। इसे खाली पड़े जगहों पर भी रखा जा सकता है। साथ ही उससे निकला मलबा भी वहां लंबे समय से रखा गया है। काम पूर्ण हो चुका है वहां भी मलबा पड़ा हुआ है। इससे अनावश्यक आने जाने वालों को परेशानी हो रही है। इसके अलावा मलबे के कारण भारी धूल उड़ रही है।

खबरें और भी हैं...