पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कांकेर:कांकेर सबडिवीजन के 100 गांव में से 55 में लो-वोल्टेज; रबी सीजन में बोर पंप चलने से बढ़ जाती है लो-वोल्टेज की समस्या

कांकेर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बिजली समस्या के चलते चिमनी की रोशनी में पढ़ाई करते मालगांव के छात्र। - Dainik Bhaskar
बिजली समस्या के चलते चिमनी की रोशनी में पढ़ाई करते मालगांव के छात्र।

गर्मी का मौसम शुरू होते ही गांव गांव में लो वोल्टेज की समस्या गहराने लगी है। इसका प्रमुख कारण ग्रामीण क्षेत्रों में कम क्षमता के ट्रांसफार्मर लगाया जाना है। विद्युत विभाग मांग के बावजूद ट्रांसफार्मर नहीं लगवा रहा है इसलिए गर्मी में बिजली की खतप बढ़ते ही वोल्टेज डाउन हो जाता है। घरों में कूलर पंखे चलते नहीं तो खेतों में सिंचाई के लिए लगाए गए बोर पंप भी नहीं चल पाते हैं। कांकेर सब डिवीजन अंतर्गत 100 गांव है जिसमें से 55 गांव में लो वोल्टेज की समस्या बनी हुई है।

लो वोल्टेज की समस्या से परेशान ग्रामीण आए दिन कांकेर पहुंच विद्युत विभाग के अफसरों के अलावा प्रशासन से भी शिकायत कर रहे हैं लेकिन उनकी समस्या का निराकरण नहीं हो पा रहा है। लो वोल्टेज की समस्या के चलते पंखा बेहद धीमी गति से चलता है। फ्रिज काम नहीं करता। कांकेर सब डिवीजन क्षेत्र में बोरपंपों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। वर्तमान में 3500 बोर पंप हैं जबकि सत्र 2018-19 में 2500 बोर पंप थे। रबी सीजन में लगाए जाने वाले धान फसल में पानी की खपत बहुत ज्यादा होती है जिसके लिए रोजाना 12 से 15 घंटा पंप चलाना पड़ता है। लगातार पंप चलने का सीधा असर वोल्टेज पर पड़ता है।

कोकपुर में बढ़ते जा रही समस्या : ग्राम पंचायत कोकपुर में लो वोल्टेज की समस्या बढ़ते जा रही है। 10 माह पहले कोकपुर में लो वोल्टेज की समस्या को लेकर ग्रामीण तथा पंचायत प्रतिनिधियों ने चक्काजाम भी किया था लेकिन इसके बाद भी समस्या का हल नहीं हो पाया है। गांव में 40 बोर पंप हैं। वोल्टेज की समस्या के कारण अक्सर फ्यूज भी उड़ रहा है। गांव में तीन लाईन है जिसमें से रोजाना कोई न कोई लाईन उड़ जाती है। गांव में नल जल योजना भी है लेकिन लो वोल्टेज के कारण पानी सप्लाई प्रभावित होता है। गांव के अनिल सेन, पुरूषोत्तम जैन, शेखर जैन, खिलेश जैन, चिंताराम जैन ने कहा लो वोल्टेज के कारण पंखा नहीं चल पाता। बोर पंप भी पुरी गति से नहीं चल पाते।

मालगांव- ठेलकाबोड़ में भी समस्या बरकरार
मालगांव में लो वोल्टेज की समस्या के कारण तीन किसानों के बोर खराब हो गए हैं। 10, 12 वीं कक्षा में पढ़ाई करने वाले बच्चों को लो वोल्टेज के कारण परेशानी बहुत ज्यादा होती है। मालगांव की सारथी शोरी ने कहा परीक्षा नजदीक है और वोल्टेज की समस्या के कारण पढ़ने में परेशानी होती है। अक्सर बिजली भी बंद हो जाती है तो चिमनी जलाकर पढ़ाई करना पड़ता है। 11 वीं की प्रेरणा मंडावी ने कहा परीक्षा के दौरान लो वोल्टेज से बहुत ज्यादा परेशानी होती है।

धनेलीकन्हार क्षेत्र में सबसे ज्यादा समस्या आ रही
धनेलीकन्हार क्षेत्र अंतर्गत 42 गांव पड़ते हैं जिसमें से 30 गांवो में लो वोल्टेज की समस्या है। ग्राम अंडी, पोटगांव, मरकाटोला में वोल्टेज समस्या है। गांव अंडी महिला सरपंच मित्राबाई सलाम ने कहा गांव में लो वोल्टेज की समस्या बनी हुई है। अक्सर बिजली बंद हो जाती है।

देवीनवागांव से ग्रामीण पहुंचे थे शिकायत लेकर
सप्ताह भर पहले ग्राम देवीनवागांव से ग्रामीण लो वोल्टेज की शिकायत लेकर पहुंचे थे तथा एक और ट्रांसफार्मर लगाने की मांग की थी। गांव के लोकेश सिन्हा, पुरूषोत्तम जैन ने कहा गांव में लो वोल्टेज के कारण बच्चों को काफी परेशानी हो रही है।

पंप के लगातार उपयोग से समस्या
कांकेर सबडिवीजन के सहायक यंत्री मुकेश नामदेव ने कहा गर्मी के मौसम में गांवो में लो वोल्टेज की समस्या है। गांव में बोर पंप की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। गर्मी में पंप का उपयोग ज्यादा होने से लो वोल्टेज की समस्या बढ़ जाती है। किसानों को चाहिए बोर पंप में कैपीसीटर लगाना चाहिए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आपका संतुलित तथा सकारात्मक व्यवहार आपको किसी भी शुभ-अशुभ स्थिति में उचित सामंजस्य बनाकर रखने में मदद करेगा। स्थान परिवर्तन संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने के लिए समय अनुकूल है। नेगेटिव - इस...

    और पढ़ें