रिश्वत मांगने का आराेप:थाना प्रभारी पर व्यापारी ने झूठा आरोप लगाया: आदिवासी समाज

कांकेर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दुर्गूकोंदल थाना प्रभारी के खिलाफ व्यापारी द्वारा रिश्वत मांगने का आराेप लगाने के मामले में रोज नए नए मोड़ आ रहे हैं। गुरुवार को आदिवासी समाज प्रभारी के पक्ष में एसपी को ज्ञापन सौंपा। इसके साथ ही जिला प्रशासन को भी ज्ञापन सौंप दुर्गूकोंदल से बंग समाज के लोगों को वहां से हटाने मांग कर दी। नहीं हटाने पर उग्र आंदेालन की चेतावनी दी गई है।

दुर्गूकोेंदल से पहुंचे आदिवासी समाज के लोगों ने एसपी व कलेक्टर को सौंपे ज्ञापन में कहा है प्रदेश स्तर पर बंद के दौरान पूरा दुर्गूकेांदल बंद था लेकिन व्यापारी श्यामपाल पिता डीसी पाल दुकान खोल मोबाइल बेच रहा था। उसे समझाया था। इस दौरान शांति व्यवस्था में जुटे थाना प्रभारी सुशील पटेल भी वहां मौजूद थे। वहां पैसे लेन देन की कोई बात नहीं थी। कुछ दिन बाद व्यापारी सार्वजनिक स्थल पर शराब पीते पकड़ा गया था। इसलिए बेबुनियाद आरोप लगा रहा है। साथ ही यह भी कहा गया कि दुर्गूकोंदल में बड़ी संख्या में बाहर से आकर बंग समाज के लोग जमीन पर कब्जा कर कारोबार कर रहे हैं। दो साल पहले भी चक्क्ाजाम कर यहां से बंग समाज को हटाने की मांग की गई थी। बंग समाज के लोगों कोतत्काल हटाया जाए नहीं तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। मांग करने वालों में जिला गोंडवाना अध्यक्ष मानक दरपट्‌टी, व्यापारी संघ अध्यक्ष बालमुकुंद सिन्हा, ब्लाक अध्यक्ष जगत दुग्गा, राज किशोर पारख, सोमल जैन, रमेश दुग्गा, महत्तम दुग्गा, रामचंद कल्लो, अघन नरेटी, बाबूलाल कोला, कुबेर दर्रो, रमसीला कोमरे आदि शामिल थे।

खबरें और भी हैं...