पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

रोजगारोंमुखी गतिविधियां चलती रही हैं:महिला ने सीएम को दी कोदो-कुटकी के प्रसंस्करण हुई कमाई की जानकारी

कांकेर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लोकवाणी की 21वीं कड़ी के प्रसारण का सामूहिक श्रवण सिंगारभाट के हाईस्कूल में किया गया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला स्तर पर विशेष रणनीति से विकास की नई राह विषय पर प्रदेशवासियों से चर्चा की। उन्होंने कहा छत्तीसगढ़ में विकास के लिए जो मॉडल प्रस्तुत किए हैं, उसमें नए-नए तरीकों से काम करने की बहुत संभावनाएं हैं और यही वजह है कि आर्थिक मंदी और कोरोना संकट के समय भी छत्तीसगढ़ में सुरक्षा के साथ आर्थिक, सामाजिक और रोजगारोंमुखी गतिविधियां चलती रही हैं।

कांकेर जिले दुर्गूकोंदल के ग्राम गोटुलमुंडा निवासी निर्मला भास्कर ने बताया मैं किसान विकास समिति की सदस्य हूं। 27 जनवरी 2021 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कांकेर प्रवास के दौरान हमारी समिति के सदस्यों द्वारा लघु धान्य प्रसंस्करण इकाई की मांग की गई, जिसे पूरा करते हुए मुख्यमंत्री द्वारा तत्काल घोषणा कर हमारे मांग को पूर्ण किया गया तथा जिला प्रशासन की ओर से शीघ्र ही हमारे ग्राम गोटुलमुंडा में लघु धान्य प्रसंस्करण इकाई की स्थापना की गई। विगत दो माह में लगभग 100 क्विंटल प्रसंस्करण की हुई। कोदो, कुटकी एवं रागी को मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के अंतर्गत आंगनबाड़ियों को प्रदाय किया जा चुका है। इससे हमारे समूह को लगभग एक लाख तीस हजार रुपए की आमदनी प्राप्त हुई है। सिंगारभाट निवासी दिव्या मरकाम ने भी मुख्यमंत्री से चर्चा करते हुए बताया लघु धान्य का प्रसंस्करण करने के लिए कृषि विज्ञान केंद्र सिंगारभाट कांकेर में प्रसंस्करण इकाई की स्थापना 27 जनवरी 2021 को की गई है, जिसका संचालन हमारे समूह लक्ष्मी स्वसहायता समूह द्वारा किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं...