छत्तीसगढ़:चोरों ने बैंक लूटने के लिए 5 फीट लंबी सुरंग खोदी, लेकिन 17 लाख रुपए से भरी तिजोरी तोड़ नहीं सके

कांकेर3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
चोरों ने बैंक में अंदर घुसने के लिए यहीं से 5 फीट लंबी सुरंग बनाई थी। - Dainik Bhaskar
चोरों ने बैंक में अंदर घुसने के लिए यहीं से 5 फीट लंबी सुरंग बनाई थी।
  • बदमाश सुरंग के जरिए उस कमरे तक पहुंचे जहां तिजोरी रखी थी
  • चोरों ने हैंडल तोड़ लिया था, लेकिन तिजोरी तोड़ने में कामयाब नहीं हो सके

छत्तीसगढ़ में लॉकडाउन के दौरान आपराधिक घटनाएं बढ़ गई हैं। रविवार रात को कांकेर के मुड़पार के सहकारी बैंक में बदमाशों ने चोरी की वारदात को अंजाम देने की कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो पाए। बदमाशों ने बैंक के अंदर घुसने के लिए पांच फीट लंबी सुरंग खोदी। ये लोग उस जगह तक भी पहुंच गए, जहां तिजोरी रखी थी। बैंक ने बताया कि इसमें 17 लाख रुपए थे। 

सोमवार सुबह जब कर्मचारी बैंक पहुंचे तो कैशियर के कमरे की टाइल्स टूटी मिली। इसकी जानकारी मैनेजर को दी गई। दुधावा पुलिस के मुताबिक, चोर सुरंग बनाकर कैशियर के चैंबर तक पहुंच गए थे। यहीं तिजोरी रखी थी। चोरों ने हैंडल तोड़ लिया, लेकिन तिजोरी तोड़ने में कामयाब नहीं हो सके। तीन दिन पहले ही बैंक में 20 लाख रुपए आए थे। इनमें से करीब 17 लाख रुपए तिजोरी में रखे थे।

कैमरे को कपड़े से ढंका, खुद भी मास्क पहना 
चोरों ने बैंक में लगे सीसीटीवी कैमरे को कपड़े से ढंक दिया था। साथ ही अपना चेहरा छिपाकर कमरे के अंदर घुसे। पुलिस ने स्निफर डॉग को बुलवाया जो मुड़पार से सरोना की ओर 200 मीटर जाकर रुक गया। मौके से एक टार्च भी बरामद हुई है। 

लूट के पहले रेकी की थी 
पुलिस का कहना है कि चोरी के लिए जो तरीका अपनाया गया उससे साफ है कि बदमाश पहले भी बैंक में आ चुके थे। वे बैंक भवन के चप्पे चप्पे और वहां के कर्मचारियों से अच्छी तरह वाकिफ होंगे। चोरों को पता था दीवार के नीचे किस जगह पर सुरंग बनाने से बैंक के किस हिस्से में निकलेंगे। यह भी पता था कि बैंक का चपरासी रविवार को छुट्‌टी पर होने से शनिवार की शाम को घर चला जाता है।

खबरें और भी हैं...