पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कालाबाजारी का असर:अभी तक बारदाने के सिर्फ एक करोड़ मिले, बाकी दो करोड़ पाने बैंक का चक्कर लगा रहे किसान

कांकेर2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिक दाम में खरीदे बोरे, किसानों की जेब से मजबूरी में गए 5 करोड़ से भी ज्यादा रुपए

प्रदेश में धान खरीदी किसानों के लिए राहत की जगह परेशानी का कारण बनती जा रही है। कभी पैदावार अधिक होने के बाद लक्ष्य कम रखा तो कभी खरीदी की अवधि कम कर दी। इससे भी खरीदी जारी रही तो बारदाना का कृत्रिम शाॅर्टेज दिखा दिया। जिससे किसान तीन गुना अधिक दाम में बारदाना खरीद धान बेचे। जबकि सरकार उन्हें प्रति बारदाना सिर्फ 15 रुपए ही दे रही है। लेकिन यह रकम पाने भी किसानों को काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। धान खरीदी बंद हुए करीब एक माह होने जा रहा है। लेकिन अबतक बारदाना की पूरी रकम किसानों के खाते में नहीं आई है। जिले में धान खरीदी के लिए कुल जिसे 74.12 लाख बारदाना का उपयोग किया गया है। इसमें से कुल 32245 किसानों द्वारा 2110236 बारदाना दिया गया है। बाकी बारदाना राइस मिल, पीडीएस व अन्य माध्यम से मिले हैं। बारदाने की किल्लत होने पर किसानों ने बाजार से 40 से 60 रुपए तक में प्रति बारदाना की खरीदी की है। जबकि सरकार इसके लिए किसानों को प्रति बारदाना 15 रुपए ही दे रही है। वह भी दो किश्त में।

अब तक तो मिल जानी थी राशि
सहकारी बैंक कांकेर पहुंचे अंजनी के किसान मानसिंग सलाम, ग्राम पटौद के पदुम मरकाम ने कहा धान बेचने बाजार से महंगे दामों में बारदाना की व्यवस्था की। जैसे तैसे रकम जुटाए। लेकिन अबतक पैसा नहीं मिल पाया है। इसके लिए कई बार बैंक का चक्कर लगा चुके हैं। अबतक दो किश्त में पैसा मिलना था अबतक एक किस्त भी नहीं मिली है।

जिले में धान खरीदी और बारदाना की स्थिति

  • 29.32 - लाख क्विंटल खरीदी का लक्ष्य
  • 73.33 लाख लक्ष्य के अनुरूप बारदाना की जरूरत
  • 74.12 लाख खरीदे धान बारदाना में भरे गए
  • 19.20 लाख जिले को मिले कुल नए बारदाना
  • 74.12 लाख खरीदे धान बारदाना में भरे गए
  • 19.20 लाख जिले को मिले कुल नए बारदाना
  • 20 लाख मिलर्स से मिले पुराना बारदाना
  • 21.10 लाख किसानों से प्राप्त नया पुराना बारदाना
  • 23660 बारदाना का भुगतान पाने वाले किसान
  • 32245 बारदाना देने वाले किसान

8585 खातों में नहीं आई किस्त
कुल 2110236 बारदाना की 15 रुपए के हिसाब से कुल कीमत3.16 करोड़ रुपए होती है। कुल 32245 किसानों में से सरकार ने 23660 किसानों को बारदाना का भुगतान किया है। इसमें से किसी को पहली तो किसी को दूसरी किश्त मिली है। लेकिन जिले के 8585 किसान ऐसे हैं जिन्हें अबतक पहली किस्त भी नसीब नहीं हुई है।

कर्ज लेकर खरीदे बारदाना
ग्राम अंजनी के राम मंडावी ने जैसे तैसे 900 रूपया की व्यवस्था कर बारदाना खरीदा लेकिन अबतक खाता में पैसा जमा नही हो पाया है। ग्राम कोकपुर के अंतुराम कुंजाम ने कहा 1500 रूपया में बारदाना खरीदा। पैसे नहीं होने पर कर्ज लिया। लेकिन अबतक खाते में पैसा नहीं जमा होने से मुश्किल बढ़ती जा रही है।

किसानों को 5 करोड़ का नुकसान
बारदाना की किल्लत के साथ ही जिले में इसकी कालाबाजारी शुरू हो गई। किसानों ने नए बारदाने 40 से 50 रुपए तक तथा पुराने बारदाने 20 से 30 रुपए तक खरीदी। इस तरह जिले में किसान कुल 2110236 बारदाना लाए। किसानों द्वारा खरीदे गए बारदाना की औसत कीमत 40 रुपए भी माने तो इसमें से 15 रुपए ही उसे सरकार की ओर से मिलेगा लेकिन 25 रुपए किसान के जेब से ही जाएगा। 2110236 बारदाना के लिए किसानों को कालाबाजारी के चलते 5 करोड़ से अधिक की रकम मजबूरी में व्यापारियों को देनी पड़ी।
पैसा हो गया है जारी : कांकेर जिला विपणन कार्यालय के सहायक लेखाधिकारी संजय चांडक ने कहा जिन किसानों ने बारदाना खरीदकर दिया है उन्हें बारदाना का पैसा दिया जाएगा। शासन से 18 जनवरी को राशि भी जारी कर दी गई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें