एंटीजन किट की कमी, फैल रहा संक्रमण:हर दिन जरूरत 200 से 250 किट की, मिल रहे 20 या 25, बीएमओ बोले : जल्द सुधरेगी व्यवस्था

थान खम्हरिया8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
थान खम्हरिया में लोग कोरोना की जांच करवाने के लिए पहुंच रहे हैं। - Dainik Bhaskar
थान खम्हरिया में लोग कोरोना की जांच करवाने के लिए पहुंच रहे हैं।

नगर के एकमात्र कोरोना टेस्टिंग सेंटर में लगातार एंटीजन किट की कमी के चलते मरीजों को जांच के लिए परेशानी उठानी पड़ रही है। दूसरी ओर आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट आने में सप्ताह भर लग जाते हैं, जिससे डॉक्टर की सलाह व इलाज लेने में मरीजों को काफी दिक्कत हो रही है। रोजाना करीब डेढ़ से 200 एंटीजन किट की जरूरत है, लेकिन यहां सिर्फ 20 से 25 किट ही प्राप्त हो रहे हैं।

साजा ब्लॉक में सबसे अधिक कोरोना टेस्ट करने वाले सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र थान खम्हरिया में टेस्ट किट की कमी से लोग निराश हैं। नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष गौरव बिंदल व समस्त कांग्रेसी पार्षदों ने सीएचएमओ व बीएमओ से मांग की है कि नगर में अतिशीघ्र एंटीजन किट उपलब्ध कराई जाए। गंभीर मरीज, जिन्हें तुरंत इलाज की जरूरत है, उन लोगों का इलाज कोरोना टेस्ट के बाद ही संभव है। नगर सहित आसपास के ग्रामीण अंचलों में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को रोकने में प्रशासन हर स्तर पर लगी हुई है, लेकिन टेस्टिंग सुविधा नहीं होने से संक्रमण बढ़ रहा है।

होम आइसोलेशन वालों की सुध नहीं ले रहा विभाग
कोरोना मरीज जो होम आइसोलेट हैं, उनकी भी सुध लेने वाला कोई नहीं है। पूर्व में मरीज को फॉर्म दिया जाता था, जिसमें रोजाना सुबह शाम ऑक्सीजन व फीवर की स्थिति को अंकित कर ब्लॉक आइसोलेशन सेंटर को सूचित किया जाना होता था, लेकिन अब स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से होम आइसोलेट मरीजों का हालचाल तक नहीं पूछ पा रही है। बीएमओ साजा अश्वनी वर्मा ने बताया कि एंटीजन किट की कमी सभी टेस्टिंग सेंटर में है। मांग के आधार पर पूर्ति नहीं हो पा रही है। व्यवस्था जल्द सुधरने की संभावना है।

खबरें और भी हैं...