पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

चीतल की मौत:बस्ती में पहुंचा चीतल, बच्चों के शोर मचाने पर छलांग लगाते वक्त तार में फंसा, मौत

बोड़लाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

जंगल से भटककर एक चीतल नगर के वार्ड- 10 बैगा टोला में पहुंच गया। यहां बच्चों के शोर मचाने पर चीतल ने भागते हुए छलांग लगाई, जिससे वह खेत में लगे लोहे के कटीली तार में फंस गया और उसकी मौत हो गई। घटना सुबह 7.30 बजे की है।

मिली जानकारी के मुताबिक मृत चीतल करीब 3 साल का था। वन विभाग के मुताबिक जिस राहत काल बांधा में वन्यप्राणी पानी पीने आते हैं, वहां से थोडी दूर ही सुकवापारा बीट क्रमांक- पीएफ 316 लगा हुआ है। गर्मी के चलते झंूड में रहने वाले वन्यजीव पानी की तलाश में अक्सर रहवासी क्षेत्र में पहुंच जाते हैं।

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि आबादी क्षेत्र में पहुंचने पर चीतल को देखकर बच्चे शोर मचाने लगे। इससे चीतल तेज भागने के चक्कर में खेत में लगे कटीली तार से फंस गया। कांटेदार तार से जख्मी चीतल 10 से 15 मिनट में ही दम तोड़ दिया। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि हिरण प्रजाति के शाकाहारी जीव हमेशा झूंड में रहते हैं। समूह से बिछड़कर चीतल बस्ती पहुंच गया था। वन अमला चीतल के शव को डिपो भेज दिया। डाॅ. सोनम मिश्रा ने पोस्टमार्टम किया।

खबरें और भी हैं...