पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सच कुछ ऐसा:निर्माण की प्रक्रिया धीमी, पुराना ठेका रद्द 1 साल से बंद काम फिर शुरू, अब भी सुस्ती

कवर्धा/ रेंगाखार जंगल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 204 करोड़ रु. से दो साल में बनने वाली चिल्फी-रेंगाखार सड़क 4 साल बाद भी अधूरी

चिल्फी से रेंगाखार होते हुए नचनिया बॉर्डर (साल्हेवारा) तक 60.80 किलोमीटर लंबी सड़क बनाई जाएगी। 204.33 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाली इस सड़क का ठेका छग रोड डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन (सीआरडीसी) ने दिल्ली की जीडीएसएल कंपनी को दिया था। 24 फीट चौड़ी इस सड़क को ऐसा बनाया जाना था, जिससे रास्ते में पड़ने वाले भोरमदेव अभयारण्य क्षेत्र के वन्य जीवों को समस्या न हों। दो साल में बनने वाली यह सड़क 3 साल बाद भी नहीं बन सकी है। कंपनी ने सड़क पर मुरुम और गिट्टी बिछाकर छोड़ दिया था। जनवरी 2020 से सड़क का काम बंद पड़ा था। गुणवत्ताहीन कार्य और स्लो प्रोग्रेस (धीमी प्रगति) के कारण पुराने ठेकेदार का ठेका निरस्त कर दिया गया। नवंबर 2020 में नया टेंडर किया गया। दुर्ग की एक कंपनी को सड़क का ठेका मिला हुआ है। एक साल बंद रहने के बाद काम दोबारा शुरू तो हुआ, लेकिन निर्माण में सुस्ती बरती जा रही है। वर्तमान में टेंडर लेने वाली कंपनी ने पर्याप्त मजदूर और मशीनें नहीं भेजी है, जिसके चलते काम में तेजी नहीं आ पा रही है। इससे लॉेगों को परेशानी बढ़ गई है।

सड़क इतनी खराब कि पैदल चलना तक मुश्किल
निर्माणाधीन इस सड़क पर ग्राम रामपुर से उमरिया (तितरी) तक सड़क बहुत खराब है। निर्माण के लिए सड़क को मशीन से उखाड़ा गया है, जिससे बड़े-बड़े पत्थर फैले हुए हैं। सड़क की स्थिति इतनी खराब हो चुकी है, इस पर लोगों को पैदल चलना तक मुश्किल हो गया है।

20 पंचायतों के 100 से ज्यादा गांव के लोग परेशान
साल 2017 में पूर्व मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह ने भूमिपूजन कर सड़क निर्माण की नींव रखी थी। वर्ष 2019 तक यह सड़क बनकर तैयार हो जाना था। सड़क बनने से क्षेत्र के 20 ग्राम पंचायतों के 100 से ज्यादा गांव के लोगों को आवागमन की सुविधा मिलने की उम्मीद थी। लेकिन इस अधूरी सड़क से परेशानी बढ़ गई है। रेंगाखार, सिंघनपुरी, सिवनीकला, बहनाखोदरा, शीतलपानी, झलमला जंगल, समनापुर जंगल, बरबसपुर जंगल और अन्य गांवों में परेशानी ज्यादा है। मोटर साइकिल चालकों को हादसे का खतरा बना रहता है। काम को जल्द पूरा करने जिम्मेदार ध्यान नहीं दे रहे हैं। इसका खामियाजा क्षेत्र के लोगों को भुगताना पड़ रहा है।

चिल्फी से समनापुर तक सड़क की कराई थी मरम्मत, फिर से उखड़ी
चिल्फी से साल्हेवारा तक इस सड़क को दो हिस्सों में बनाई जा रही है। इसका पहला हिस्सा समनापुर से साल्हेवारा तक रोड डेवलपमेंट कार्पोरेशन बनवा रही है। वहीं इसका दूसरा हिस्सा चिल्फी से समनापुर तक पीडब्ल्यूडी (लोक निर्माण विभाग) को हैंडओवर किया गया है। चिल्फी से समनापुर तक सड़क काफी खराब है। कई जगह गड्ढे हो गए थे। माहभर पहले करीब 50 लाख रुपए खर्च कर सड़क की मरम्मत कराई गई थी। लेकिन हाल ही में हुई बारिश व ओलावृष्टि से सड़क की हालत पहले जैसी हो गई है। गड्ढों में जहां गिट्टी और मुरुम पटवाए थे, वे फिर उखड़ गए हैं।

ईई चौहान बोले- काम में तेजी लाई जाएगी
इस संबंध में पीडब्ल्यूडी के ईई वीके चौहान का कहना है कि निर्माणाधीन सड़क के कार्यों में तेज लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें