हॉस्टल के छात्रों को दिए कंबल व चादर:फ्लोरिंग के लिए इंजीनियर को एस्टीमेट बनाने दिए निर्देश

कवर्धा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के जी श्याम नगर स्थित अनुसूचित जाति छात्रावास में बदइंतजामी का आलम है। हॉस्टल के कमरों में फर्श कई जगह से उखड़ गई है। सुविधाओं का आभाव है। दैनिक भास्कर ने 4 दिसंबर के अंक में एक माह से राशन नहीं, भवन खराब शीर्षक देकर समस्या को प्रमुखता से उठाया था। इसके बाद सरकारी अमला हरकत में आया। आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त व विभागीय इंजीनियर ने छात्रावास का निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाया कि छात्रावास में छात्रों के शयन के लिए 20 कमरे बने हैं, जिसमें से 4 कमरों में मार्बल पत्थर लगा है। शेष 16 कमरों में प्लास्टर जगह- जगह से उखड़ गए हैं।

बरामदे में फ्लोरिंग की जरूरी है। इसे लेकर सब इंजीनियर को एस्टीमेट बनाने के निर्देश दिए गए हैं। हॉस्टल के छात्रों से हुई चर्चा के अनुसार उन्हें पर्याप्त कंबल व चादर उपलब्ध कराया गया है। हॉस्टल के कमरों में एलईडी बल लगवाया गया है। इस संबंध में अधीक्षक ने बताया कि भोजन के लिए 6 क्विंटल चावल उपलब्ध कराए हैं।

खबरें और भी हैं...