पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धान खरीदी:41 दिन में लक्ष्य तक पहुंचने की है चुनौती जिले में खरीदना है 35 लाख क्विंटल धान

कवर्धा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • केंद्रों में रोज कम खरीदी, धान खरीदी के लिए 31 जनवरी तक का समय निर्धारित किए हैं

चालू खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में कबीरधाम जिले में 35 लाख क्विंटल धान खरीदी का लक्ष्य है। 1 दिसंबर से धान खरीदी शुरू हो गई है, जो 31 जनवरी 2021 तक चलेगी। शनिवार- रविवार व अन्य अवकाश के दिनों को छोड़कर सिर्फ 41 दिन में टारगेट पूरा करना है। समस्या यह है कि केंद्रों में रोज औसत से कम धान खरीदी हाे रही है। इससे 41 दिन में टारगेट पूरा करना आसान नहीं है।
यह समस्या इसलिए पैदा हुई है, क्योंकि समितियों में रोज धान खरीदी के लिए प्रशासन ने किसानों की संख्या तय कर दी है। केंद्रों में कुल पंजीकृत किसानों में से 70 अनुपात 30 के हिसाब से किसानों को धान खरीदी के लिए पर्ची जारी किया जा रहा है। यानी प्रतिदिन कटने वाले टोकन में 70 फीसदी छोटे किसान और 30 प्रतिशत बड़े किसान शामिल हैं। किसानों की संख्या तय होने से लक्ष्य अनुसार औसतन रोज जितना धान खरीदा जाना है, उससे कम ही खरीदा जा रहा है। इससे 35 लाख क्विंटल धान खरीदी का लक्ष्य पूरा करना मुश्किल होगा।
बढ़ेगी परेशानी: 31 जनवरी 2021 तक धान खरीदी होगी। इसमें शनिवार व रविवार को केंद्रों में धान खरीदी नहीं होती। इस बीच अन्य अवकाश भी है, जिससे सिर्फ 41 दिन ही खरीदी होती। इस बीच मौसम बिगड़ने या बारदानों की कमी से खरीदी रुकती है तो लक्ष्य के हिसाब से धान खरीदी मुश्किल है।

इन दो केस से समझिए, धान खरीदी में सुस्ती को
केस 1. खरीदना है 1342 क्विंटल रोज, अभी 1125 क्विंटल ही खरीद रहे : लालपुर कला समिति में कुल 1484 पंजीकृत किसान हैं । इन किसानों से 55 हजार क्विंटल धान खरीदा जाना है। रोज औसतन 1342 क्विंटल धान खरीदी हो, तभी 41 दिन में लक्ष्य पूरा होगा। लेकिन वर्तमान में यहां खरीदी की गति धीमी है। फिलहाल यहां रोज 1125 क्विंटल धान खरीद रहे हैं, जो कि औसत से कम है। इसकी वजह से परेशानी बढ़ सकती है।

केस 2. रोज 300 क्विंटल कम हो रही खरीदी : वनांचल इलाके के कुकदूर समिति में रोज 300 क्विंटल कम धान खरीदी हो रही है। यहां 1161 पंजीकृत किसान हैं, जिनसे 52693 क्विंटल धान खरीदा जाना है । वर्तमान में रोज औसतन 950 क्विंटल धान खरीदी हो रही है, जबकि रोज 1285 क्विंटल खरीदा जाना है । खरीदी धीमी होने से लक्ष्य पूरा करने में मुश्किलें होंगी। बारदाने की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता जरूरी है।

अफसर बाले- अभी धान खरीदी की शुरुआत ही हुई है
जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के नोडल अधिकारी बद्री चंद्रवंशी का कहना है कि अभी धान खरीदी की शुरुआत हुई है। प्रारंभ में छोटे व सीमांत किसानों का धान खरीदा जा रहा है। ताकि उन्हें सुविधा मिल सके। बड़े किसानों से खरीदी होने पर केंद्रों में धान की आवक तेज होगी। इसके साथ ही खरीदी की प्रक्रिया भी तेज होगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser