पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब कोरोना सांसों पर भारी:संक्रमण अब डराने लगा; मार्च के 31 दिन में केवल दो संक्रमित की तो अप्रैल के आठ दिन में ही पांच की मौत

कवर्धा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सभी संक्रमित की उम्र 40 से अधिक, कबीरधाम में बीते 4 दिन में 4 की मौत, वर्तमान में 1409 एक्टिव मरीज
  • संक्रमण के साथ मृत्यु दर बढ़ी: वायरस की मारक क्षमता बढ़ने के साथ नेचर भी बदला

कबीरधाम जिले में लगातार कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के साथ ही मौत के मामले भी बढ़ रहे। स्थिति ऐसी है कि बीते माह मार्च में जहां केवल दो कोरोना संक्रमित की मौत हुई थी, वहीं इस माह अप्रैल में 8 तारीख तक 5 लोगों की मौत हुई है। बीते 4 दिन में लगातार एक-एक लोगों की मौत हुई है।

कोरोना संक्रमित व्यक्ति की मौत की शुरूआत 5 अप्रैल से हुई है। गुरुवार 8 अप्रैल को पंडरिया ब्लॉक के ग्राम पेंड्रीकला निवासी एक 45 वर्षीय कोरोना संक्रमित महिला की मौत हुई। एक सप्ताह के भीतर ब्लाक में यह तीसरी मौत है। यह महिला चार अप्रैल को संक्रमित पाई गई थी,जिसे कवर्धा में भर्ती कराया गया था। सुधार नहीं होने पर मंगलवार को बिलासपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया,जहां उसकी मौत हो गई। इस गांव में मंगलवार को 8 व बुधवार-गुरुवार को भी 4-4 संक्रमित मिले है।

यहां करीब 20 से अधिक संक्रमित एक्टिव है। वहीं अब तक सभी संक्रमित की उम्र 40 वर्ष से अधिक थी। जिले में अब इस माह प्रतिदिन औसतन 100 से अधिक मरीज मिल रहे है। आयुष पॉलीक्लिनिक के 100 बेड में से 60 बेड भर गए है व 40 बेड रिक्त है। इसी प्रकार अब जिले में कोरोना एक्टिव मरीज की संख्या भी बीते 6 दिन से लगातार बढ़ रहीं है। जिले में 1409 कोरोना संक्रमित एक्टिव हैं।

कोरोना इफेक्ट: कलेक्टोरेट के भीतर प्रवेश पर रोक
10 अप्रैल को आयोजित होने वाले नेशनल लोक अदालत को स्थगित कर दिया गया है। वर्तमान में कोरोना बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। इसी प्रकार कलेक्टोरेट कार्यालय के भीतर भी आमजन के प्रवेश पर रोक लगा दिया है। कलेक्टोरेट अधीक्षक राजू धुर्वे ने बताया कि कलेक्टोरेट के भीतर केवल कर्मचारियों को थर्मल मशीन में तापमान जांच के बाद ही प्रवेश दे रहे है। आमजन की समस्या, शिकायत व अन्य मांग के आवेदन कलेक्टोरेट के मेन गेट के सामने ही आवक-जावक काउंटर के माध्यम से लिए जा रहे है।

निजी अस्पताल में संक्रमित को एडमिट नहीं कर रहे
वर्तमान में ज्यादातर कोरोना संक्रमित की मौत हुई है वे रायपुर व बिलासपुर में भर्ती थे। समस्या यह है कि बड़े शहरों के निजी अस्पताल में कोरोना संक्रमित को एडमिट करने ध्यान नहीं दिया जा रहा है। ऐसे में जिले के कोरोना संक्रमित दूसरे शहर के सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती हो रहे है। यहां भी कोरोना संक्रमित की संख्या ज्यादा होने के कारण सही ढंग से उपचार नहीं हो पाता ये स्थिति बोड़ला ब्लॉक के कोरोना संक्रमित मरीज के साथ हुई थी। उन्हें रायपुर के मेकाहारा में 30 मार्च को भर्ती कराया गया। लेकिन 6 अप्रैल को उनकी मौत को गई।

जिले में बीते 10 दिन के कोरोना संबंधित फैक्ट फाइल
जिले में बीते 10 दिन के कोरोना संबंधित फैक्ट फाइल
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें