पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कवर्धा लूटकांड के 6 आरोपी गिरफ्तार:मुंशी ही निकला मास्टरमाइंड, 71.56 लाख रु. में से 68.50 लाख बरामद

कवर्धाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फरार आरोपी नारायण चंद्रवंशी ने वाशिंग मशीन में छिपाए थे पैसे।
  • मिर्ची पाउडर डलने पर भी आंखें नहीं हुईं लाल, यहीं से शक गहराया

पांडातराई और कुंडा थाना क्षेत्र की सीमा पर जंगलपुर गांव में हितांशु राइस मिल के मुंशी से हुई 71.56 लाख रुपए की लूटकांड से पर्दा हट चुका है। मामले में एक महिला समेत 6 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। लूट का शिकार हितांशु राइस मिल का मुंशी मनोज कश्यप ही इसका मास्टरमांइड निकला। उसी निशानदेही पर मामले का खुलासा हुआ।  चार महीने पूर्व गांजा तस्करी के आरोप में निलंबित चिल्फी थाने का सहायक आरक्षक दिलीप चंद्रवंशी भी लूटकांड में शामिल है। आरोपियों के पास से 68.50 लाख रुपए और कट्टा बरामद कर लिया गया है। मामले का एक अन्य आरोपी नारायण चंद्रवंशी अभी फरार है, जिसने लूट की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस अधीक्षक कार्यालय में शुक्रवार शाम 7 बजे एसपी केएल ध्रुव ने लूट मामले का खुलासा किया।

बार-बार पूछने पर बयान में विरोधाभास आ रहा था
वारदात के बाद मनोज ने पुलिस को बताया था कि लुटेरों ने उसकी आंखों में मिर्ची झोंकी थी। पुलिस को तभी उस पर शक हो गया। क्योंकि मनोज की आंखें देखकर लग नहीं रहा था कि उसके साथ ऐसा कुछ हुआ था। बार-बार पूछने पर बयान में विरोधाभास आ रहा था। कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने सारा सच उगल दिया।

वाॅशिंग मशीन में छिपाए थे लूट के साढ़े 9 लाख रुपए 
आरोपी नारायण चंद्रवंशी ने लूट के साढ़े 9 लाख रुपए अपने घर ले आया था। कैश को वाॅशिंग मशीन में छिपा दिया था। आरोपी मनोज की निशानदेही पर पुलिस ने सिलसिलेवार गिरफ्तारी शुरु की। गुरुवार रात में ही ग्राम कंझेटा में रहने वाले आरोपी दीपचंद और संजय को गिरफ्तार किया। शुक्रवार सुबह नारायण के घर दबिश दी, लेकिन वह फरार था। तलाशी लेने पर घर में रखे वाशिंग मशीन में साढ़े 9 लाख रुपए बरामद हुआ। आरोपी नारायण की पत्नी पिंकी को कैश की जानकारी थी। आपराधिक षड्यंत्र में पति का साथ देने के आरोप में उसे भी गिरफ्तार कर लिया है। चार महीने पूर्व गांजा तस्करी के आरोप में निलंबित चिल्फी थाने का सहायक आरक्षक दिलीप भी शामिल है।

बायपास रोड पर 15 दिन पहले रची गई थी साजिश 
वारदात के 15 दिन पहले लूट की साजिश रची गई थी। उस दिन रायपुर बायपास रोड पर आरोपी मनोज, दिलीप और नारायण चंद्रवंशी तीनों बैठकर शराब पी रहे थे। तब मनोज ने बताया कि वह हर हफ्ते अपने सेठ का लाखों रुपए लेकर बिलासपुर व भाठापारा जाता है। 9 जुलाई को 70 लाख रुपए लेकर बिलासपुर जाने वाला हूं। मेरे साथ एक अन्य व्यक्ति होगा। इसी बीच तुम लोग कट्टे से डराकर व मिर्ची पाउडर झोंककर कैश लूट लेना। बाद में आपस में बांट लेंगे। वारदात को अंजाम देने संजय, दीपचंद और मुकेश भी शामिल कर लिया। लूटकांड में 6 आरोपी पकड़े गए हैं। इसमें हितांशु राइस मिल का मुंशी मनोज कश्यप, निलंबित सहायक निरीक्षक दिलीप चंद्रवंशी, दीपचंद चंद्रवंशी, संजय चंद्रवंशी, मुकेश चंद्रवंशी और पिंकी चंद्रवंशी शामिल है।

जानिए, आरोपियों में किसकी क्या थी भूमिका.. 
1. आरोपी मनोज कश्यप : हितांशु राइस मिल का मुंशी था और मिलर मुन्ना अग्रवाल काे उस पर काफी भरोसा था। इसके चलते ही उसे लाखों रुपए कैश देकर पेमेंट देने के लिए अक्सर बिलासपुर, भाटापारा भेजता था। लेकिन मनोज ने विश्वासघात किया। लालच में आकर लूट की साजिश रच डाली। 

2. आरोपी दिलीप चंद्रवंशी : चार माह पहले तक चिल्फी थाने में सहायक आरक्षक था। उस पर गांजा तस्करों का साथ देने का आरोप है। चिल्फी थाने में ड्यूटी के दौरान उसके किराए के कमरे से 8 पैकेट गांजा बरामद हुआ था, जिस पर उसे जेल हुई। अभी जमानत पर रिहा है। लूट की साजिश में साथ दिया। 

3. आरोपी दीपचंद चंद्रवंशी और संजय चंद्रवंशी : ये दोनों ग्राम कंझेटा के रहने वाले हैं। आरोपी दिलीप चंद्रवंशी के परिचित के हैं। लूट का लगभग 40 लाख रुपए दोनों के पास से बरामद हुआ है।

4. आरोपी मुकेश चंद्रवंशी : हितांशु राइस मिल का पुराना नौकर है। एक साल पहले मिल संचालक मुन्ना अग्रवाल ने उसे नौकरी से निकाल दिया था। लूट का मास्टरमांइड मनोज इसी के साथ किराए के कमरे में एक साथ रहते थे। इसके पास से भी लूट का पैसा बरामद हुआ है। 

5. पिंकी चंद्रवंशी : लूट का फरार आरोपी नारायण चंद्रवंशी की पत्नी है। लूट के साढ़े 9 लाख रुपए को आरोपी ने घर में छिपाया था, इसकी जानकारी पिंकी को थी। आरोपी नारायण के फरार होने पर पुलिस ने आपराधिक षड्यंत्र में साथ देने के आरोप में इसे भी गिरफ्तार किया है ।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें