पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बैगा लड़की से दुष्कर्म:70 हजार देकर मामला दबाने की कोशिश, दो गिरफ्तार

कवर्धा4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बोड़ला थाना क्षेत्र में एक 17 साल की बैगा लड़की के अपहरण व बंधक बनाकर उसके साथ दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। यही नहीं, दुष्कर्म के बाद पीड़ित परिजन को 70 हजार रुपए देकर मामला दबाने की कोशिश की गई। मामले में पुलिस ने फौरी कार्रवाई करते हुए मुख्य आरोपी व उसके एक सहयोगी को तो पकड़ लिया, लेकिन वारदात में साथ देने वाले तीसरे आरोपी सरपंच पति की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

मिली जानकारी के मुताबिक मुख्य आरोपी महेश पिता संतू धुर्वे ग्राम चोरभट्‌ठी का रहने वाला है। आरोपी ने अपने दोस्त रूपचंद कुसरे की मदद से 5 सितंबर को अन्य गांव की रहने वाली बैगा लड़की को अगवा किया। अपहरण के बाद मुख्य आरोपी महेश ने उसे अपने घर में दो दिन तक बंधक बनाकर रखा।

इस दौरान उसके साथ एक से अधिक बार दुष्कर्म किया। फिर 7 सितंबर को आरोपी महेश ने अपने उसी दोस्त की मदद से मोटर साइकिल पर लड़की काे वापस गांव ले जाकर छोड़ दिए। पीड़ित परिजन शिकायत करने थाने जाने वाले थे। आरोपियों को जब यह बात पता चली, तो पीड़ित परिजन को 70 हजार रुपए थमा दिया और एफआईआर न करने दबाव डाला गया।

बोड़ला थाने के टीआई संतराम सोनी का कहना है कि दुष्कर्म के मामले में मुख्य आरोपी महेश व रूपचंद को गिरफ्तार किया है। कोर्ट में पेशी के बाद दोनों को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा है। अपराध में सहयोग करने वाले सरपंच पति की गिरफ्तारी भी जल्द हो जाएगी।

सरपंच पति पर भी आरोप, उसे ही नहीं पकड़ा

ग्राम पंचायत चोरभट्‌ठी के सरपंच पति रामानुज बंजारे पर दुष्कर्म के इस गंभीर मामले को दबाने का आरोप है। बोड़ला पुलिस ने मामले में धारा 190, 34, 363, 366, 376(2)(n) और पॉक्सो एक्ट की धारा 4, 6 के तहत मुख्य आरोपी महेश धुर्वे, रूपचंद कुसरे व सरपंच पति रामानुज बंजारे के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी और उसके दोस्त को तो गिरफ्तार कर लिया, लेकिन आरोपी सरपंच पति को नहीं पकड़ा है।

खबरें और भी हैं...