अच्छी खबर:कोंडागांव में कोरोना की रफ्तार थमी, 10 दिन से नहीं मिले मरीज

कोंडागांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वैक्सीनेशन लगातीं स्वास्थ्यकर्मी। - Dainik Bhaskar
वैक्सीनेशन लगातीं स्वास्थ्यकर्मी।
  • 45 से अधिक उम्र वाले 98.40 फीसदी को लग चुकी पहली डोज

कोरोना के देश में प्रवेश के साथ मानों हर तरफ कोरोना का बोल-बाला था। समय के साथ पहली और दूसरी लहर से जनजीवन के साथ अर्थव्यवस्था भी थम सी गई थी। ऐसे में कोरोना वायरस के टीके के साथ 2021 उम्मीद की एक नई किरण के साथ आई थी। टीकाकरण का व्यापक अभियान चलाने से कोरोना की रफ्तार दिन ब दिन घटती गई और जनजीवन वापस समान्य स्थिति पर आने लगा।

जिसके लिए जिला प्रशासन द्वारा रणनीति तैयार कर टीकाकरण और जागरूकता अभियान पूरे जिले में चलाया गया था जिसका असर दिखने लगा है। जिले में पिछले 10 दिनों से एक भी कोविड संक्रमित मरीज नहीं पाया गया है। जिला प्रशासन ने लॉकडाउन के खुलने के साथ वृहद स्तर पर जागरूकता एवं टीकाकरण अभियान चलाया। कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा ने जिले में टास्क फोर्स की नियमित बैठक लेते हुए टीकाकरण के लिए नई रणनीति अपनाते हुए टीकाकरण अभियान को जन-जन तक पहुंचाने के लिए कहा था।

गांव-गांव में टीकाकरण शिविरों का आयोजन कर ग्राम के मितानिन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, ग्राम शिक्षक, सचिव, आरएईओ आदि सभी मैदानी कर्मचारियों को टीकाकरण शिविरों तक लोगों को लाने एवं टीकाकरण जागरूकता प्रसार की जिम्मेदारी दी गई। इसी का असर है कि 13 अक्टूबर तक 45 से अधिक उम्र वाले 98.40 प्रतिशत व्यक्तियों को टीके की प्रथम एवं 44.41 प्रतिशत को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। वहीं 18 से 44 आयु वर्ग में अब तक 65.81 प्रतिशत को प्रथम और 19.07 प्रतिशत लोगों को टीके की दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। इसके साथ ही अब जिले में एक भी धनात्मक प्रकरण न होने के साथ सभी माइक्रो कंटेनमेंट जोन, कंटेनमेंट जोन को समाप्त कर दिया गया है। इसके बाद भी जिला प्रशासन कोरोना को जड़ से खत्म करने के लिए लगातार प्रयास कर रहा है।

3 लाख लोगों की जांच में 12922 मिले पॉजिटिव
जिले में 13 अक्टूबर तक कुल 305059 लोगों की कोरोना जांच की गई है जिसमें से 12922 व्यक्ति कोविड पॉजिटिव पाए गए थे। जिनके उपचार के लिए जिला अस्पताल में डेडिकेटेट कोविड हॉस्पिटल के साथ सभी ब्लॉकों में कोविड केयर सेंटरों और जिला अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति निरंतर बनाए रखने के लिए ऑक्सीजन प्लांट की भी स्थापना की गई थी।

उत्सवों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील
कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण प्राप्त करने के बाद जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने आने वाले उत्सवों एवं त्योहारों के मौसम को देखते हुए लोगों से अपील की है कि कोविड के प्रकरणों को शून्य करने के लक्ष्य को लेकर जिला प्रशासन प्रयास कर रहा है ऐसे में जिले के नागरिक भी अपना सहयोग दें एवं कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए भीड़-भाड़ वाले स्थलों पर जाने से बचें एवं अधिक से अधिक मास्क का प्रयोग करते हुए 2 गज की दूरी के नियमों का पालन अवश्य करें ताकि कोरोना महामारी पुनः जिले में प्रवेश न कर सके। इसके अतिरिक्त संक्रमण के कोई भी लक्षण दिखायी देने पर बिना देर किये नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र में जाकर निःशुल्क कोरोना की जांच करवायंे। यह जांच जिले के जिला हास्पिटल, समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उपलब्ध है।

खबरें और भी हैं...