पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बड़ा हादसा:बिजली गिरने से तेंदूपत्ता तोड़ने परिवार के साथ जंगल गई 15 वर्षीय युवती की मौत

महासमुंदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीएचसी केंद्र में इलाज कराने बैठीं दो महिलाएं। - Dainik Bhaskar
सीएचसी केंद्र में इलाज कराने बैठीं दो महिलाएं।

तेंदूपत्ता तोड़ाई शुरू होने के दूसरे दिन जिले में एक बड़ा हादसा हो गया। गाज गिरने से एक नाबालिग की मौत हो गई वहीं अन्य चार लोग घायल हो गए । मृतका अपने परिजनों के साथ तेंदूपत्ता तोड़ने के लिए गई थी । मामला बागबाहरा क्षेत्र के ग्राम सोनदादर का है। हादसा गुरुवार सुबह 6 बजे का है।

सूचना पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। वहीं घायलों को डायल 112 की मदद से सीएचसी बागबाहरा लाए गए जहां प्राथमिक इलाज के बाद उन्हें छुट्टी दे दी गई। जानकारी के अनुसार ग्राम सोनदादर के 40 से 50 संग्राहक तेंदूपत्ता तोड़ने के लिए आमगांव बांधा के पास अल सुबह गए हुए थे । संग्राहकों के साथ उनके बच्चे भी साथ में आए थे । तोड़ाई करते समय अचानक मौसम अचानक खराब हो गया और थोड़ी देर बाद गाज गिरा इससे तेंदूपत्ता तोड़ रही गांव की वर्षीय सुमन निराला पिता श्यामलाल निराला(15) की मौके पर ही मौत हो गई ।

नहीं मिलेगा सामूहिक बीमा का लाभ
वैसे तो तेंदूपत्ता संग्राहकों के परिवार का सामूहिक बीमा लघुवनोपज सहकारी समिति के द्वारा किया जाता है । इसमें संग्राहक के पूरे परिवार का बीमा होता है, ताकि तोड़ाई के समय यदि हादसा हो तो इसका लाभ परिवार को मिले, लेकिन इस योजना का लाभ 18 वर्ष या उससे अधिक आयु वालों को मिलता है । वनमंडलाधिकारी पंकज राजपूत ने बताया कि नाबालिग की मौत गाज गिरने से हुई है । वह अपने परिवार के साथ तेंदूपत्ता तोड़ने गई थी, लेकिन सामूहिक बीमा का लाभ नहीं मिलेगा ।

खबरें और भी हैं...