पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कार्रवाई:ओडिशा से प्रतिबंधित टेबलेट और कफ सिरप लेकर आ रहे थे बेचने, 3 गिरफ्तार

महासमुंद11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 1.62 लाख रुपए के 500 नग वनरेक्स कफ सिरप और 600 नग एलप्रासेफ टेबलेट जब्त

सरायपाली पुलिस ने प्रतिबंधित कफ सिरप और टेबलेट के साथ तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से 500 नग वनरेक्स कफ सिरप और 600 नग एलप्रासेफ टेबलेट जब्त किया है। इसकी कुल कीमत 1.62 लाख रुपए है। साथ ही तस्करी में प्रयुक्त दो बाइक भी जब्त की गई है।

तीनों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। तीनों ओडिशा से प्रतिबंधित दवाएं लेकर सारंगढ़, बरमेकेला होते हुए सरायपाली आ रहे थे। पकड़े गए तीन आरोपी में से एक तस्करी का मास्टरमांइड है, जो पहले भी इस तरह के कारोबार में लिप्त था और पुलिस उसकी लंबे समय से इंतजार कर रही थी। मंगलवार को पुलिस अधीक्षक प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने कंट्रोल रूम में मामले का खुलासा किया। एसपी ने बताया कि लॉकडाउन के कारण क्षेत्र में नशे के कारोबार सहित नशीले पदार्थ की बड़ी खेप आने की सूचना मिली थी।

इसी सूचना पर पुलिस की टीम को अलर्ट किया गया था। 3 मई को सूचना मिली की सारंगढ़ की ओर से बिना नंबर की दो बाइक में कुछ लोग प्रतिबंधित दवाओं का परिवहन कर रहे हैं। सूचना पर सरायपाली पुलिस की टीम को कार्रवाई के लिए निर्देशित किया गया। सूचना पर टीम सारंगढ बाॅर्डर पर ग्राम पोड़ापाली के पास नाकाबंदी कर संदिग्ध बाइक का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान दो बाइक आती दिखी, जिसमें नंबर प्लेट नहीं थे। दोनों बाइक सवार को पुलिस ने रोकने का प्रयास किया, लेकिन वे बाइक मोड़कर वापस सारंगढ़ की ओर भागने लगी। इसके बाद सरायपाली की टीम ने पीछाकर दोनों बाइक में सवार तीन लोगों को पकड़ा। इनके पास बैग में बड़ी मात्रा में कफ सिरप और नशीली टेबलेट थी।

तीनों सरायपाली निवासी, ओडिशा में बरगढ़ क्षेत्र से लेकर आ रहे थे दवा
पकड़े गए तीनों तस्कर सरायपाली के निवासी हैं। प्रारंभिक पूछताछ में तीनों ने बताया कि ये दवाएं ओडिशा के बरगढ़ जिले से खरीदकर ला रहे थे। इसे सरायपाली और बसना क्षेत्र में खपाने की योजना थी। इनमें से शेख मकसूद्दीन पिता शेख तफरूद्दीन 45 वर्ष निवासी वार्ड क्रमांक 7 शास्त्री नगर, झिलमिला निवासी पहले भी इस तरह के कारोबार में लिप्त रहा है। पूर्व में बसना पुलिस द्वारा पकड़े गए कफ सिरप में भी मकसूद्दीन का नाम आया था, लेकिन वो पुलिस की गिरफ्त से बाहर था। इसी तरह एक अन्य बाइक में सवार चालक अशोक दुबे पिता नंदकुमार दुबे 35 वर्ष वार्ड क्रमांक 10 बाजार पारा निवासी है। अशोक नगर पालिका में दैनिक वेतनभोगी के रूप में कार्यरत है। उसके साथ बाजारपारा के ही बाबूलाल सागर, पिता चतुर सिंग उम्र 40 वर्ष को भी पकड़ा गया है।

नींद की दवा है एलप्रासेफ नशे के लिए सिरप की मांग
तस्करों के पास जब्त टेबलेट और कफ सिरप दोनों प्रतिबंधित है और बिना डॉक्टर की पर्ची के इसे न तो बेचा जा सकता और न ही खरीदा जा सकता। मेंटल हेल्थ के नोडल अफसर डॉ छत्रपाल चंद्राकर ने बताया कि एलप्रासेफ टेबलेट नींद की दवा है, जिसे डॉक्टर मानसिक रोगी या फिर अन्य जरूरी रोगियों को उनकी समस्या देखकर लिखते हैं। इसी तरह कफ सिरप सामान्य तौर पर खांसी की दवा है, लेकिन ये भी प्रतिबंधित है। क्योंकि इसमें कोडिन होता है, जो एक प्रकार का ड्रग है। इसे लंबे समय तक लेने पर लोग इसके एडिक्ट हो सकते हैं।

कार्रवाई में ये रहे शामिल
उक्त कार्रवाई में थाना प्रभारी वीणा यादव, सउनि राजेन्द्र प्रसाद भोई, मुरलीधर भोई, रमानीलाल टांडेकर, प्रधान आरक्षक भोलेन्द्र ठाकुर, अशोक बाघ, हिमाद्री देवता, वरुण दीपक, जयन्त बारीक़, सुकलाल भोई, आरक्षक हिरेन्द्र भार्गे, अनिल मांझी, चन्द्रमणी यादव, दिलीप पटेल, टीकाराम नायक, हितेश साहू, दिनेश बुढेक, शिवशंकर राज, टीकाराम साहू, योगेश यादव, विपिन सिदार, आलोक शर्मा, नगर सैनिक लक्ष्मण मिश्रा, संजीव यादव शामिल थे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय कड़ी मेहनत और परीक्षा का है। परंतु फिर भी बदलते परिवेश की वजह से आपने जो कुछ नीतियां बनाई है उनमें सफलता अवश्य मिलेगी। कुछ समय आत्म केंद्रित होकर चिंतन में लगाएं, आपको अपने कई सवालों के उत...

    और पढ़ें