पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ये कैसी व्यवस्था:आइसाेलेशन पूरा करवाने के नाम पर वसूले 5-5 सौ रुपए, अधिकारी बोले- वापस करेंगे

महासमुंदएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बागबाहरा जनपद क्षेत्र का मामला, शपथ पत्र भरवाकर सरपंच-सचिव ने ग्रामीणों से वसूले पैसे
Advertisement
Advertisement

अन्य राज्य और छग के अन्य स्थानों से जिले में लौटने वाले मजदूरों और आमजनों से होम क्वारेंटाइन के नाम पर 500-500 रुपए वसूली का मामला सामने आया है। यह वसूली स्थानीय स्तर पर ही सरपंच और सचिव कर रहे हैं। पैसे की वसूली के साथ ही एक शपथ पत्र भरवाया जा रहा है। शपथ पत्र में इसका जिक्र है कि 14 दिन होम आइसोलेशन के नियम शर्तों का पालन किया जाएगा। इसके बाद पैसे की वापसी होगी। हालांकि ग्रामीणों का कहना है कि उन्हें अब तक पैसे वापस नहीं मिले हैं। मामला बागबाहरा विकासखंड का है। प्राप्त जानकारी के अनुसार ब्लाॅक के नवाडीह, फुलवारी, बिहाझर, जुनवानी खुर्द सहित 8 से 10 पंचायतों के ग्रामीणों ने इस संबंध में शिकायत की है। इधर, इस मामले में जिम्मेदार अधिकारी भी इस बात को कबूल रहे हैं कि पैसे लिए गए हैं। और अब क्वारेंटाइन अवधि पूरी होने के बाद पैसे वापस भी किए जा रहे हैं। अधिकारियों का कहना है कि ऐसा इसलिए किए गया, ताकि लोगों में अनुशासन बना रहे और इसके लिए शपथ पत्र भी भरवाया गया है। 

बागबाहरा ब्लॉक में लौटे 22872 मजदूर
प्राप्त जानकारी के अनुसार बागबाहरा जनपद पंचायत के विभिन्न गांव में अब तक 22872 मजूदर वापस लाैट चुके हैं। इनमें से 18570 ने 14 दिन की क्वारेंटाइन अवधि पूरी कर ली है। वहीं 4302 मजदूर अब भी क्वारेंटाइन सेंटर में निवासरत हैं।

चार सदस्यों के लिए परिवार से ले लिए 2 हजार

  • ग्राम नवाडीह निवासी डुगेश्वर ठाकुर अपनी पत्नी और दो बच्चों के साथ मजदूरी के लिए ओडिशा गया हुआ था। वहां से लौटने पर उन्हें पंचायत ने 14 दिन के लिए स्कूल में क्वारेंटाइन किया। इसके बाद 14 दिन के लिए होम आइसोलेशन पर रहने के लिए शपथ पत्र भरवाया गया और 500-500 रुपए के हिसाब से 2000 रुपए लिया गया।
  • ग्राम नवाडीह निवासी रत्थू यादव रायपुर से लौटा है। वहां से लौटने के पश्चात रत्थू को गांव को स्कूल में 14 दिन क्वारेंटाइन पर रखा गया। इसके बाद हाेम आइसाेलेशन पर रहने के लिए शपथ पत्र भरवाया गया। इसके साथ 500 रुपए लिया गया।
  • ग्राम फुलवारी निवासी जसवंत कुमार बेहरा महासमुंद से वापस गांव लौटा और करहीडीह पंचायत के ग्राम खट्‌टाडीह निवासी सुशीला भलेसर से 6 जून को वापस लौटी। इन्हें भी होम आइसाेलेट किया गया और शपथ पत्र भरवाकर 500 रुपए लिया गया।

सीएम, पंचायत मंत्री और कलेक्टर से करेंगे शिकायत
इधर, इस मामले में जनपद पंचायत बागबाहरा की अध्यक्ष स्मिता हितेश चंद्राकर का कहना है कि उनके संज्ञान में भी यह मामला आया है। कोरोना काल में अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे हैं। ये पूरी तरह से गलत है। एक तो मजदूर अपनी मजबूरी में वापस आया है। कई मजदूराें को वेतन भी नहीं मिला है और वो खुद का पैसा खर्च कर लौटे हैं। ऐसे में इस तरह से वसूली करना दुर्भाग्य की बात है। यदि सरकार का इस तरह का आदेश है तो अधिकारी हमें आदेश की कॉपी दिखाए। मैं इस मामले की लिखित शिकायत मुख्यमंत्री, पंचायत मंत्री और कलेक्टर से करूंगी।

सीधी बात 
एमआर यदु, सीईओ, जपं बागबाहरा

सवाल - बागबाहरा ब्लॉक के कई गांव में क्वारेंटाइन के नाम पर पैसे लिए जाने की शिकायत है?
- वो कुछ जगह लिए थे, उनको क्वारेंटाइन के बाद वापस कर दिया जाता है।
सवाल - लेकिन पैसे लेना तो गलत है ना?
- कुछ जगह होम क्वारेंटाइन की नौबत आई, ऐसे में अनुशासित रहे इसलिए ऐसा किया गया है, पैसा वापस कर दिया जाता है।
सवाल - कितने पंचायतों में ऐसा हुआ है?
- बहुत से पंचायत में हुआ था ऐसा, अधिक संख्या में मजदूर आ गए न।
सवाल - क्या सरकार की ओर से या प्रशासन की ओर से ऐसा कोई आदेश था?
- नहीं, लोकल सतर पर व्यवस्था बनाई गई थी। लोग अनुशासित रहे, अन्य लोगों से न मिलें, इसलिए ऐसा किया गया था।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement