विरोध:प्रदेशाध्यक्ष की गिरफ्तारी के विरोध में आप ने किया अनशन

महासमुंदएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिक्षक भर्ती प्रक्रिया को लेकर बैठे हुए थे अनशन पर

आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष कोमल हुपेंडी को पुलिस द्वारा अनशन से हटाने के विरोध में आम आदमी पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकताओं ने एक दिन का अनशन किया। मंगलवार को पुराना कचहरी में आयोजित प्रदर्शन में आम आदमी पार्टी के जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र चन्द्राकर, राकेश झाबक एवं अभिषेक जैन ने कहा कि शिक्षा कर्मी पद के लिए चयनित 14580 अभ्यर्थियों की नियुक्ति की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष 3 जुलाई से आमरण अनशन पर थे, जिसे प्रशासन द्वारा जबरन उठा लिया गया है। इसके विरोध में पार्टी द्वारा एक दिवसीय अनशन जारी है। आप ने चयनित अभ्यर्थियों की भर्ती प्रक्रिया जल्द पूरी करने की मांग सरकार से की है, यदि मांग पूरी नहीं होगी तो सरकार के खिलाफ वृहद आंदोलन करेंगे।
कोई अलग मांग नहीं, घोषणा पत्र के वादे हैं
उन्होंने कहा कि हम कांग्रेस के नेताओं द्वारा ही कहे गए वादों को पूरा करने की बात कह रहे हैं जो उन्होंने अपने घोषणा पत्र में कहा है। कांग्रेस सरकार के घोषणा पत्र समिति के अध्यक्ष टीएस सिंहदेव जो सरकार में कैबिनेट मंत्री है, उन्होंने भी सरकार बनने के 10 दिनों में यह कार्य को पूर्ण करने की बात कही थी। आज वो भी इस मामले में चुप्पी साधे बैठे हैं। यह आंदोलन सतत जारी रहेगा और इस आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए आज से इस आमरण अनशन पर आम आदमी पार्टी के प्रदेश सचिव उत्तम जायसवाल बैठेंगें। अनशन में सकील खान, क़ादिर चौहान, गौतम नेताम, पूनाराम निषाद, संतोष सिंह ठाकुर, रंजीत ठाकुर, संतोष चन्द्राकर, भूषण सिन्हा, छन्नूलाल महानंद, सतीश गोतमारे, अपराजिता जामफले, गीता गोस्वामी आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

खबरें और भी हैं...