टीकाकरण अभियान:100% वैक्सीनेशन की ओर बागबाहरा, 97% लोगों को लग चुकी दूसरी डोज

महासमुंद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

लोगों को कोरोना से बचाने के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत महासमुंद जिले में भी रोजाना बड़ी संख्या में लोगों को टीका लगाया जा रहा है। इसके लिए स्वास्थ विभाग की टीम ब्लॉकवार अतिरिक्त सत्र आयोजित कर सभी लक्षित लोगों को टीका लगा रही है। जिले में 2 अक्टूबर को ही सभी को पहली डोज का टीका लगा लिया गया।

महीने भर में ही दूसरे डोज के तहत भी लगभग 92 फीसदी लोगों को टीका लगा लिया गया है। जिले में वर्तमान समय में महासमुंद निकाय को छोड़कर सभी निकाय शतप्रतिशत प्रतिरक्षित हो गए हैं। सरायपाली व बसना ब्लॉक को भी वैक्सीनेटेड किया लिया गया है। अब इसी राह पर बाहबाहरा ब्लॉक भी है, जहां 97 फीसदी लोगों को दूसरी डोज का टीका लगा लिया गया है।

शेष वही जिनकी 84 दिन की अवधि पूरी नहीं : डाॅ. मुकुंद राव के अनुसार जिले में जल्द से जल्द लक्ष्य हासिल करने के लिए रोजाना लोगों को फोन करके सेंटर बुलाया जा रहा है। ऐसे व्यक्ति जो सेंटर नहीं पहुंच रहे हैं, उनके लिए भी घर तक टीम जाकर टीका लगा रही है। इसलिए अभी ऐसे लोग ही जिले में शेष हैं, जिनकी 84 दिन की अवधि दूसरी डोज के लिए पूरी नहीं हुई है। 84 दिन की अवधि पूरी होते ही टीम उन तक संपर्क कर टीकाकरण कर रही है।

मंगलवार को 5 हजार से अधिक को टीका
अभियान के तहत तेजी से लक्ष्य हासिल करने के लिए विभाग की ओर से रोजाना सैकडों अतिरिक्त टीकाकरण सेंटर बनाए जा रहे हैं। इसी के तहत मंगलवार को भी डेढ़ सौ से अधिक सेंटर पर टीकाकरण अभियान आयोजित किया गया, जहां देर शाम तक 5 हजार से अधिक लोगों को टीका लगाया गया। इसमें अधिकांश लाभार्थियों ने दूसरी डोज का टीका लगवाया। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जिले में पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन की आपूर्ति हो रही है, जिसके कारण रोजाना बहुत से लोगों को टीका लगाया जा रहा है।

18 साल के होने वाले युवा भी जुड़ रहे
देश में कोरोना टीकाकरण की शुरुआत 16 जनवरी 2021 को हुई थी, जिसके बाद क्रमश: 60 प्लस, फिर 45 प्लस और 18 प्लस आयु वर्ग के लोगों के लिए भी इसकी शुरुआत की गई। टीकाकरण सलाहकार डॉ. मुकुंद राव के मुताबिक अभी तक जिले में 105 फीसदी लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है। इस समय ऐसे युवा भी टीकाकरण के लिए पहुंच रहे हैं, जिनकी उम्र 18 साल हो रही है। अभी पहला डोज का टीका लगवाने वालों में ऐसे ही युवा ज्यादा हैं।

खबरें और भी हैं...