पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बैठक:डाटा एंट्री पर निर्भर न रहें, निचले स्तर तक कार्य करें: कलेक्टर

महासमुंद4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • स्वास्थ्य संबंधी कार्यक्रमों की कलेक्टर ने समीक्षा की, लक्ष्य के विरुद्ध अब तक की उपलब्धियों के बारे में जानकारी भी ली

स्वास्थ्य कार्यक्रमों की गुरुवार को कलेक्टर ने समीक्षा की। टीबी, मलेरिया, कुष्ठ, अंधत्व निवारण, तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम, हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर एवं कायाकल्प सहित अन्य कार्यक्रमों की समीक्षा कर लक्ष्य के विरुद्ध अब तक की उपलब्धियों के बारे में जानकारी ली।  उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से संबंधित सभी कार्यक्रमों का निचले स्तर तक क्रियान्वयन करने को निर्देशित किया तथा डाटा एवं एंट्री पर निर्भर न रहने की बात कहीं। जिले का कोई भी अस्पताल या केंद्र चिकित्सक विहीन न हो साथ ही स्वास्थ्य केंद्राें में दवाओं का पर्याप्त भंडारण भी सुनिश्चित करने काे कहा है।  बैठक में उन्होंने संस्थागत प्रसव बढ़ाने, शत-प्रतिशित बच्चों का टीकाकरण करने की बात भी कही। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डाॅ. रवि मित्तल, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. एसपी वारे, सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डाॅ. आरके परदल आईएमएम जिला इकाई के अध्यक्ष डाॅ. विमल चोपड़ा सहित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

नसबंदी की क्षतिपूर्ति में न की जाए देरी
डिस्ट्रिक्ट क्वालिटी एश्योरेन्स कमेटी की बैठक के दौरान कलेक्टर ने नसबंदी की क्षतिपूर्ति में विलंब न करने के साथ-साथ नब्बे दिवस के भीतर ही फार्म भराए जाने के निर्देश दिए। वहीं, कोविड-19 में संलग्न चिकित्सकीय अमले की सुरक्षा के दृष्टिगत जीवनदीप समिति व अन्य प्रावधानों के अंतर्गत सुरक्षा गार्ड बढ़ाने के साथ-साथ बीट गार्ड स्तर से भी प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के समन्वय सहित शिकायतें होने पर विधि-सम्मत प्राथमिकी दर्ज कराने को कहा।

कुपोषित बच्चों की काउंसिलिंग कर लाए पुनर्वास केंद्र 
सुबह एवं शाम की दो पालियों में क्रमशः डिस्ट्रिक्ट क्वालिटी एश्योरेन्स कमेटी, जैव चिकित्सा प्रबंधन सहित जिला चिकित्सालय, सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में प्रदाय की जा रही, चिकित्सा सेवाओं के साथ-साथ उपलब्ध उपकरणों और दवाओं भंडारण के संबंध में अद्यतन जानकारी लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। मैराथन चली इस बैठक में उन्होंने बेहतर स्वास्थ्य सेवा और कोविड-19 के साथ अस्पताल प्रसव एवं सुपोषण अभियान पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि उल्टी एवं दस्त सहित मौसमी बीमारियों को देखते हुए कारगर प्रयास किए जाएं। कलेक्टर  ने गंभीर कुपोषित बच्चों के लिए काउंसलिंग के जरिए पोषक पुनर्वास केंद्र में लाने की बात कही, ताकि गुणवत्तापूर्ण आहार देकर उन्हें सुपोषित किया जा सके। उन्होंने महिला एवं बाल विकास विभाग से समन्वय कर एनिमिया पीड़ितों एवं गर्भवती महिलाओं को चिह्नांकित कर गुणवत्तापूर्ण आहार देने के लिए कहा। साथ ही उन्होंने 
पूर्ण टीकाकरण एवं अधिक से अधिक संस्थागत प्रसव कराने पर जोर दिया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें