पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

काेराेना का असर:हर साल रक्षाबंधन पर होता था 50 लाख का व्यापार, इस बार 1 लाख का भी नहीं

महासमुंद7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉकडाउन के कारण राखी और मिठाई दुकानों में नहीं पहुंचे ग्राहक, दुकानदारों के लिए कर्मचारियों को वेतन देना मुश्किल
Advertisement
Advertisement

रक्षाबंधन का पर्व पर इस बार भद्रा का कहर तो नहीं है, लेकिन कोरोना का जरूर है। इससे त्याेहार इतना फीका हो गया है कि इस बार बहनें अपने भाइयों का मुंह मीठा भी नहीं करा पाएगी। जिले में लॉकडाउन के चलते सभी मिठाई की दुकानें बंद हैं। इससे मिठाइयां मिलनी मुश्किल है। मिठाई दुकानदारों को दुकान खोलने की छूट नहीं मिलने से वे आक्रोशित है। उन्हें परिवार सहित कर्मचारियों के भरण पोषण की चिंता सता रही है। इस बार उन्हें लाखों का नुकसान झेलना पड़ रहा है। हालांकि प्रशासन ने घर पहुंच सेवा की छूट दी है, लेकिन लोग बिना देखें मिठाइयां नहीं ले सकते हैं। वहीं उनके मन पसंद का मिठाई भी नहीं मिल पाएगी। मिठाई बनाने वालाें ने भी लॉकडाउन के चलते दुकानें खुलेगी या नहीं इसे लेकर वे संशय में थे, इसलिए उन्होंने सामाग्री भी नहीं मंगवाई है। वे अपने ग्राहकों के लिए ही कुछ मिठाई बना रहे हैं। वहीं दुकानदारों का कहना है कि अभी तक ऑर्डर भी नहीं मिला है। इस बार पूरा धंधा चौपट हो गया है। मजदूरों के साथ दूध वालों को भी लाखों का नुकसान झेलना पड़ रहा है। वे आस लगाकर बैठे थे कि जिस प्रकार किराना व राखी दुकानों को खोलने की छूट मिली थी, कहीं त्यौहार के एक दिन पहले उन्हें भी मिल सकती है, लेकिन पूरा धरा का धरा रह गया है। उन्हें केवल घर पहुंच सेवा की छूट मिली है। वे इस आदेश से खुश नहीं है। बताया जा रहा है कि जिले में हर साल 50 लाख से अधिक का व्यापार होता था, लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के चलते 1 लाख का भी नहीं हो पाएगा। जिले में कोरोना संक्रमण के कारण लॉकडाउन है। यह लॉकडाउन 6 अगस्त तक जारी रहेगा। लगातार कोरोना के केस जिले में बढ़ रहे है। जिसे देखते हुए सभी दुकानों को बंद करने का आदेश है। बकरीद व रक्षाबंधन त्यौहार को देखते हुए किराना व राखी दुकानों को तीन दिन की छूट मिली थी। अब छूट मिल पाना संभव नहीं है।

किराना दुकान की तरह ही दे देते छूट
भैरव बिकानेरी स्वीट्स के संचालक मोती सिंह राजपुरोहित का कहना है कि इस साल पूरा धंधा चौपट हो गया। जिस तरह किराना दुकानदारों को छह से 10 बजे तक छूट दी गई थी वैसे ही छूट यदि मिठाई दुकान वालों को मिल जाती तो ये हाल नहीं होता। जहां ज्यादा केस मिले हैं उन शहरों में दुकानें खुली है, लेकिन महासमुंद में बंद है। इसके चलते बहुत परेशानी हो रही है। ऑनलाइन में कुछ भी ऑर्डर नहीं मिला है।

मजदूरों का खर्चा भी नहीं निकल पाएगा
सुखी मिष्ठान दुकान के संचालक नेमीचंद साेनी का कहना है कि किराना दुकान खुलते ही लोग टूट पड़े। इस वक्त कहां गया था, कोरोना का संक्रमण। कोरोना क्या मिठाई दुकान वालों के लिए है। घर पहुंच सेवा से तो मजदूर का खर्चा भी नहीं निकल पाएगा। आए त्यौहार में पूरा धंधा चौपट हो गया है। दुकान के बाहर नंबर आर्डर के लिए लगाए है, लेकिन अभी तक केवल चार लोगों ने आर्डर ही आर्डर दिया है।

दुकान के बाहर लगा घर पहुंच सेवा का बोर्ड
मिठाई व्यापारी वाले अपने दुकान के शटर व आसपास में अपना नंबर चस्पा किए है और उसमें आर्डर व घर पहुंच सेवा की सुविधा लिखी हुई है। इधर, लॉकडाउन के कारण लोग निकल नहीं पा रहे हैं, तो आर्डर कहां से आएगा। प्रशासनिक अधिकारी बेवजह घूमने वालों पर ऐसे ही गुस्साए हुए है।

नहीं मिल रहे ऑर्डर इस बार नुकसान
सोनी मिष्ठान भंडार के संचालक कमलेश सोनी का कहना है कि लॉकडाउन के कारण पूरा नुकसान हो गया है। किराना दुकान वालों को तीन दिन की छूट मिली थी, ऐसे ही छूट मिठाई दुकानवालों को मिलती तो उन्हें नुकसान झेलना नहीं पड़ता। परिवार के साथ दुकान के कर्मचारियों का भी परिवार इसी धंधे से चलता है। उनके ऊपर आर्थिक संकट पैदा हो गई है। वे परिवार का भरण पोषण नहीं कर पा रहे हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement