ऑनलाइन प्यार कर 'गेम':नाबालिग 'फ्री फायर' खेलते बिहार के लड़के को दे बैठी दिल, घर से भागी, मिली तो शादी कर चुकी थी

​​​​​​​महासमुंद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

ऑनलाइन गेम के चक्कर में मौत होने और बैंक खातों से रुपए निकल जाने के किस्से आपने सुने होंगे। अब छत्तीसगढ़ में गेमिंग के चक्कर में बड़ा खेल हो गया। महासमुंद जिले की 16 साल की लड़की को 'फ्री फायर' गेम के खिलाड़ी से प्यार हो गया और उसके चक्कर में घर छोड़ कर भाग निकली। करीब 12 दिन बाद जब पुलिस ने लड़की को तलाश किया तो पता चला कि उसने शादी कर ली है। इसके बाद पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, मामला पिथौरा क्षेत्र के ग्राम सोनासिल्ली का है। यहां रहने वाली 16 साल की लड़की 18 नवंबर को गायब हो गई। परिजनों ने काफी तलाश किया, लेकिन कुछ पता नहीं चला। इसके बाद उन्होंने गुमशुदगी दर्ज करा दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने उसके मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की तो वो बिहार में एक्टिवेट मिला। इस पर टीम जमुई पहुंची और वहां से युवक चंदन कुमार पिता दिनेश को हिरासत में लेकर लड़की को बरामद कर लिया।

एक साल पहले गेम खेलने के दौरान युवक से हुआ परिचय
पुलिस पूछताछ में लड़की ने बताया कि करीब एक साल पहले गेम खेलने के दौरान उसकी ऑनलाइन चंदन से पहचान हुई थी। उसका खेल देखकर वह काफी इंप्रेस हुई। दोनों ने अपने मोबाइल नंबर शेयर किए और फिर वॉट्सऐप पर बातें होने लगीं। इस बीच दोनों के बीच प्यार हुआ और लड़की घर से भाग निकली। वह जमुई पहुंची, जहां युवक ने उसके साथ मंदिर में शादी रचाई। बताया जा रहा है कि युवक के घर वालों ने भी इसे स्वीकार कर लिया था।

फिलहाल पुलिस ने नाबालिग लड़की को भागने के लिए उकसाने और शादी करने के आरोप में युवक को गिरफ्तार कर लिया है। उस पर पॉक्सो सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने युवक को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। वहीं लड़की को उसके परिजनों को सौंपा गया है।

क्या है फ्री फायर गेम
ऑनलाइन गेम पबजी, कॉल ऑफ ड्यूटी आदि जैसे ही फ्री फायर गेम भी एक ऑनलाइन बैटल ग्राउंड गेम है। इसे ऑनलाइन सिंगल या ग्रुप में खेल सकते हैं। खेलने वाला एक सैनिक को दूसरे से लड़ाता है। अंत में जो बचता है वह विजेता होता है। गेम निशुल्क भी है लेकिन इसमें खिलाड़ी के सैनिक को कोई सुविधा नहीं मिलती। पहले इसे फ्री खेलते हैं। लत लगने पर गेम को अपग्रेड करने करने के लिए बंदूक आदि हथियार खरीदने के लिए कहा जाता है। इसके लिए ऑनलाइन रुपए लिए जाते हैं।

खबरें और भी हैं...