पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मनमानी:बस किराया बढ़ाने का सिर्फ आश्वासन मिला तो कई रूटों पर दोगुना किराया ले रहे हैं ऑपरेटर

महासमुंद17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रायपुर से पिथौरा का 250 रुपए का टिकट। - Dainik Bhaskar
रायपुर से पिथौरा का 250 रुपए का टिकट।
  • रायपुर से झलप के यात्री से लिए 150 रुपए, पहले लेते थे 80 रुपए, बस कंडक्टर ने कहा- डीजल का रेट बढ़ गया

सरकार ने अभी यात्री किराया नहीं बढ़ाया है, बस ऑपरेटर्स को सिर्फ इसका आश्वसन ही मिला है, लेकिन ऑपरेटर्स ने अपनी ओर से मनमानी करते हुए यात्री किराया 40 से 20 फीसदी तक बढ़ा दिया है। की रूट में डबल किराया लिया जा रहा है।

सबसे ज्यादा सरायपाली रूट में मनमाने तरीके से किराया वसूला जा रहा है। इसके साथ ही अन्य रूटों में भी ऑपरेटर्स ने अपनी ओर से 5 व 10 रुपए बढ़ा दिया है, जबकि शासन ने सभी रुटों के लिए निर्धारित यात्री किराया तय किया हुआ है। डीजल का रेट बढ़ रहा है। लेकिन यात्री किराया सरकार की ओर से नहीं बढ़ाया जा रहा है।

ऑपरेटर्स को परिचालन में परेशानी हो रही है और उनका खर्च नहीं निकल पा रहा है। इसलिए ऑपरेटर्स द्वारा सरकार के तय किराया से अधिक यात्रियों से वसूल रहे हैं। मनमानी पर रोक लगाने वाला कोई नहीं है। कार्रवाई नहीं होने के कारण इन ऑपरेटर्स के हौसले बुलंद हैं।

माह की शुरुआत में की गई थी कार्रवाई

जिला परिवहन अधिकारी सीपी तिग्गा ने बताया कि सरायपाली रूट में शिकायत मिल रही थी। बस ऑपरेटर्स को समझाइश भी दी गई थी, लेकिन ये मान नहीं रहे थे। 3 व 4 जुलाई को दो से तीन बसों को चेक किया तो अधिक किराया वसूली करना पाया गया। इसके बाद दो बसों पर कार्रवाई की गई थी।

शासन के आश्वासन के बाद शुरू हुई बस सेवा

महासंघ के निर्णय पर 13 जुलाई को बसों का परिचालन बंद कर दिया गया था। पदाधिकारियों की बैठक हुई, जिसमें शासन की ओर से किराया व अन्य मांगों पर जल्द ही विचार करने का आश्वासन दिया गया। इसके बाद देर रात ऑपरेटर्स ने हड़ताल वापस लिए और बसों के परिचालन को शुरू किया।

यात्रियों से ज्यादा किराया लेना गलत : चंद्राकर

जिला बस एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष राकेश चंद्राकर ने बताया कि बैठक में किराया कितना बढ़ेगा इसकी जानकारी नहीं मिली है, लेकिन किराया बढ़ाने का आश्वासन मंत्री ने दिया है। सरायपाली रूट में मनमाने वसूली की जा रही है, वह गलत है। शासन द्वारा निर्धारित किराया ही लिया जाएगा।

100 रुपए निर्धारित लेकिन ले रहे 250

पिथौरा के प्रेमलाल सांवरा ने बताया कि सरायपाली रूट में यात्री किराया मनमाने वसूल रहे हैं। परिचालक से सवाल-जवाब पर बस से उतर जाओ कहते हैं। उन्होंने बताया कि रायपुर से पिथौरा तक आने के लिए पहले 100 रुपए लगता था। दो दिन पहले रायपुर से पिथौरा आया तो परिचालक ने 250 रुपए का टिकट काटकर थमाया। पूछने पर डीजल की कीमत बढ़ने का हवाला दिया।

100 रुपए देने के बाद 50 और मांग लिए

झलप निवासी बीके श्रीवास्तव ने बताया कि 14 जुलाई को मैं भोपाल से रायपुर पहुंचा और झलप आने के लिए बस में सवार हुआ । टिकट मांगने पर 100 रुपए दिए, क्योंकि किराया 80 रुपए था। बस के परिचालक ने 100 देने के बाद 50 रुपए की और मांग की। परिचालक से पूछा कि पहले 80 रुपए लेते थे अभी 150 कैसे ले रहे तो, कहा कि डीजल का रेट बढ़ गया है, इसलिए किराया भी बढ़ गया है।

बागबाहरा व राजिम रूट में 5 से 10 रुपए बढ़ाए

रायपुर के गजानंद ठाकुर, रामेश्वर, महासमुंद की कुमुदनी साहू ने बताया कि रायपुर रूट की ओर भी ऑपरेटर्स ने पांच रुपए किराया बढ़ा दिया है। रायपुर जाने के लिए 55 रुपए लेते थे, अब 60 रुपए ले रहे हैं। ये सभी बुधवार को रायपुर से महासमुंद बस स्टैंड पहुंचे थे।

​​​​​​​राजिम के कुंज बिहारी जो बस से महासमुंद आए उन्होंने ने बताया कि पहले 35 रुपए किराया देते थे, पिछले तीन चार दिनों से किराया 45 रुपए दे रहे है, लेकिन परिचालक टिकट भी नहीं दे रहे हैं।

खबरें और भी हैं...