पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऐसे बढ़ रही महंगाई:पिछले 10 महीने में प्याज 18 से 50 तो 400 का खाद्य तेल 500 रुपए तक पहुंचा

महासमुंद12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीजल 19 तो पेट्रोल में 18 रुपए महंगा, मालभाड़ा बढ़ा तो राशन के साथ सब्जी के भी दाम बढ़े

पिछले 10 महीने में डीजल और पेट्रोल के दाम में हुई वृद्धि का असर अब बाजार में दिखने लगा है। इसके चलते खाद्य सामग्रियां महंगी हो गई है और किचन का बजट बढ़ गया है। महासमुंद की बात करें तो आज से चार महीने पहले राहर दाल की कीमत 95 से 100 रुपए के बीच थी, जो अब 105 से 110 रुपए प्रति किलो पहुंच गई है। उड़द दाल का दाम 85 से 95 रुपए प्रति किलो पहुंच गया है। इसी तरह खाद्य तेल पर 400 से 500 रुपए प्रति टीपे की बढ़ोतरी हुई है। इसी तरह प्याज की कीमत 45 से 50 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गई है, जो चार महीने पहले 18 से 20 रुपए थी। व्यापारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में खाद्य पदार्थों में इसका असर और देखने को मिलेगा, क्योंकि डीजल का दाम बढ़ने से भाड़ा में बढ़ोतरी किए जाने की सूचना ट्रांसपोर्टर ने पहले ही दे दिए हैं। 10 महीने में डीजल के दाम में 20 रुपए प्रति लीटर तक बढ़े हैं। अप्रैल में डीजल की कीमत जहां 67.72 रुपए प्रति लीटर थे, वो आज 87.13 रुपए तक पहुंच गया है। इसका असर किराना, निर्माण सामाग्री, स्टेशनरी, कपड़ा, कृषि उपकरणों सहित अन्य सामाग्रियों पर पड़ने की संभावना है। क्योंकि ये सभी वस्तुएं ट्रकों के जरिए अन्य प्रांतों से आती है।

महिलाओं ने कहा- बढ़ गया किचन का बजट...
इधर, डीजल के दाम में हुई बढ़ोतरी का असर किचन में देखने को मिल रहा है। महिलाओं के घर का बजट सीधे बढ़ गया है। नेहरू चौक निवासी लाली रावल ने बताया कि उनके घर में दो महीने पहले प्रति माह 2500 रुपए का राशन आता था, लेकिन इस महीने बजट 3500 पहुंच गया। पंचवटी विहार निवासी लिल्पा चौहान ने बताया कि उनके घर का बजट दो महीने पहले 3000 रुपए प्रतिमाह था, लेकिन इस महीने किचन का बजट 7000 रुपए पहुंच गया है। रायपुर रोड निवासी प्रीति तिवारी ने बताया कि राशन और रसोई गैस के दाम में बढ़ोतरी का असर सीधे घर के बजट पर पड़ रहा है। पहले जहां 10 हजार के सामान में घर चलता था, वो सीधे 15 हजार पहुंच गया है। इसी तरह कौशिक कॉलोनी निवासी पूजा चंद्राकर ने बताया कि इस महीने उनके किचन का बजट 7 हजार रुपए था, जबकि दो महीने पहले 5 हजार।

डीजल का रेट बढ़ने से 30 से 40 रुपए बढ़ा है भाड़ा
किराना के थोक व्यापारी संजू क्षत्रिय बताते हैं कि डीजल का दाम बढ़ने से भाड़ा बढ़ गया है। प्रति क्विंटल भाड़ा में 30 से 40 रुपए की वृद्धि हो गई है। इसका असर सामानों में पड़ रहा है। खाद्य तेल महंगा हो गया है। प्याज, दाल सहित अन्य सामाग्री के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। चेंबर अॉफ कॉमर्स के अध्यक्ष शंभू साहू का कहना है कि डीजल का रेट बढ़ने का असर महंगाई पर पड़ रहा है।

10 महीने में 246.5 रुपए बढ़े रसोई गैस के दाम
10 महीने की बात करें तो रसोई गैस के दाम में 246.50 रुपए प्रति सिलेंडर की वृद्धि हुई है। मई महीने में रसोई गैस की कीमत 594 थी। वहीं दिसंबर महीने में इसके दाम 765 रुपए पहुंच गए।

किराया बढ़ने का असर इन चीजों पर भी
ट्रक यूनियन महासमुंद के अध्यक्ष जसबीर सिंह (पप्पू मक्कड़) का कहना है कि डीजल का रेट बढ़ने से इसका सीधा असर भाड़ा पर पड़ेगा। पिछले कई महीनों से भाड़ा बढ़ा नहीं है। ऐसे में आने वाले दिनों में भाड़ा बढ़ाना ही पड़ेगा नहीं तो नुकसान होगा। इसका सीधा असर खाद्य पदार्थ, सब्जियों सहित अन्य सामाग्री में पड़ेगा। ट्रांसपोर्टर संजय साहू ने बताया कि डीजल बढ़ने का सीधा असर रेत, गिट्‌टी, ईंट आदि के कीमत में भी देखने को मिल रहा है। पहले महासमुंद से रायपुर रेत सप्लाई करने पर 1 हाईवा की कीमत 10 हजार थी, लेकिन आज 12 हजार हो गई है। इसी तरह गिट्‌टी की कीमत में भी 1 हजार रुपए बढ़ोतरी हुई है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी सकारात्मक और संतुलित सोच द्वारा कुछ समय से चल रही परेशानियों का हल निकलेगा। आप एक नई ऊर्जा के साथ अपने कार्यों के प्रति ध्यान केंद्रित कर पाएंगे। अगर किसी कोर्ट केस संबंधी कार्यवाही चल र...

    और पढ़ें