खतरा बरकरार:अप्रैल के 27 दिन में सामने अाए 10322 पॉजिटिव इनमें से 4511 तो केवल महासमुंद ब्लॉक से मिले

महामसुंद6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महासमुंद। ये सन्नाटा अच्छा है, क्योंकि इसी तरह हम घर पर रहकर कोरोना से जारी लड़ाई जीत सकते हैं। - Dainik Bhaskar
महासमुंद। ये सन्नाटा अच्छा है, क्योंकि इसी तरह हम घर पर रहकर कोरोना से जारी लड़ाई जीत सकते हैं।
  • अप्रैल माह में महासमुंद ब्लॉक में मिले सर्वाधिक मरीज, सबसे कम 931 बसना ब्लॉक में

जिले में लॉकडाउन के बावजूद कोरोना संक्रमण का आंकड़ा थम नहीं रहा है। जिले में अप्रैल महीने के 27 दिन में ही 10 हजार से अधिक पॉजिटिव मरीजों की पहचान हो चुकी है और यह आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। महासमुंद जिले की बात करें तो जिले के पांच विकासखंड में सबसे भयावह स्थिति महासमुंद ब्लॉक की बनी हुई है।

यहां अप्रैल महीने के 27 दिन में सर्वाधिक 43.70 फीसदी की दर से मरीज मिले हैं। मतलब अप्रैल महीने में जो 10322 मरीज सामने आए हैं, उसमें से 4511 पॉजिटिव केवल महासमुंद ब्लॉक से हैं। जिले में कोरोना के सबसे कम केस बसना ब्लॉक में आए हैं। यहां इस महीने 931 पॉजिटिव की पहचान हुई है, जो इस महीने मिले कुल मरीजों का केवल 9 फीसदी है।

जिला नोडल अधिकारी डॉ अनिरूद्ध कसार की मानें तो महासमुंद शहर सहित ब्लॉक में टेस्टिंग अधिक हो रही है। इसके अलावा जिले में अन्य जिलों से भी लोगों का आना जाना लगा रहता है। इसलिए भी यहां पॉजिटिव आने वालों की संख्या काफी अधिक है। इसके अलावा महासमुंद शहर में भी अप्रैल महीने में काफी संख्या में अधिक मिले हैं। इसलिए ब्लॉक का आंकड़ा काफी अधिक है।

27 में से 3 दिन 100 से कम मिले मरीज

महासमुंद ब्लॉक में मरीजों की संख्या का अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि अप्रैल महीने के इन 27 दिनों में केवल 3 दिन ऐसे थे, जिसमें 100 से कम की संख्या में मरीज मिले थे। वहीं 6 दिन तो मरीजों की संख्या 200 के पार थी। महासमुंद ब्लॉक में सर्वाधिक 248 मरीजों की पहचान 20 अप्रैल को हुई थी।

सबसे कम मरीज बसना में मिले

अप्रैल महीने की बात करें तो जिले में सबसे कम मरीजों की पहचान बसना ब्लॉक में हुई है। यहां केवल 931 मरीज मिले हैं। इसी तरह बागबाहरा ब्लॉक मरीजों के मामले में दूसरे स्थान पर है। यहां अप्रैल महीने में 1650 पॉजिटिव मिले हैं। पिथौरा ब्लॉक में 1641 और सरायपाली ब्लॉक में 1590 पॉजिटिव मरीजों की पहचान इन 27 दिनों में हुई है।

जिले में 622 पाॅजिटिव मिले, 5 मौत भी

जिले में बुधवार को 622 पॉजिटिव मरीज की पहचान हुई है। इसके साथ ही 05 कोविड मरीजों की मौत भी जिले में हुई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन के अनुसार महासमुंद ब्लॉक में एक बार फिर सर्वाधिक 232 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसी तरह बागबाहरा में 95, पिथौरा में 109, बसना में 91 और सरायपाली में 95 मरीजों की पहचान बुधवार को हुई है। बुधवार को 658 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। यह पहला मौका है जब जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा एक ही दिन में 600 के पार पहुंचा है।

इसके पहले 9 अप्रैल को जिले में 548पॉजिटिव मरीज एक ही दिन में मिले थे। बुधवार को जिले में 1753 सैंपल की जांच की गई। इसमें 1370 रैपिड एंटीजेन टेस्ट शामिल है, जिसमें 465 पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई। वहीं आरटीपीसीआर के 282 सैंपल जांच के लिए भेज गए हैं। वहीं पूर्व में भेजे गए सैंपल में से 102 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। ट्रू-नॉट के 101 सैंपल की जांच में 55 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

खबरें और भी हैं...