पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

धरी रह गई चतुराई:धमतरी में पुलिस से बचने तस्कर महासमुंद से जा रहे थे, ‌‌‌20 लाख रुपये के गांजे के साथ 7 गिरफ्तार

महासमुंद14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मलकानगिरी से 4 क्विंटल गांजा लेकर रायपुर जा रही 3 गाड़ियाें को पुलिस ने पकड़ा

ओडिशा मलकानगिरी क्षेत्र से 4 क्विंटल गांजा लेकर तेलीबांधा रायपुर जा रहे तीन गाड़ियों को बागबाहरा पुलिस ने पकड़ा है। तीनों वाहनों से टीम ने चार क्विंटल गांजा बरामद कर उसमें सवार 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी में दो अपचारी बालक शामिल हैं। ये तस्कर सतना की एक पार्टी को तेलीबांधा के पास हैंडओवर करने वाले थे, लेकिन पुलिस ने इनके मंसूबे पर पानी फेर दिया। जब्त गांजा की कीमत 20 लाख रुपए आंकी गई है। तस्कर मलकागिरी से धमतरी के रास्ते रायपुर जाने का प्लान बनाया था। तीनों वाहन चालक मलकानगिरी से गांजा लेकर सुकमा, कोंटा, जगदलपुर, धमतरी के रास्ते रायपुर तेलीबांधा जा रहे थे। जब तस्करों ने धमतरी में चेकिंग होने की जानकारी हुई तो ओडिशा के नवरंगपुर के पास से ही तस्करों ने रूट चेंज किया। इसके बाद वे खरियाररोड, महासमुंद के रास्ते तेलीबांधा रायपुर पहुंचने के लिए निकले। इधर, इसी दौरान बागबाहरा पुलिस लॉकडाउन के कारण सड़क पर वाहनों की जांच कर रही थी। तभी कार क्रमांक ओडी 02 एम 1362 को जांच के लिए रोका गया, लेकिन चालक ने तेज रफ्तार से गाड़ी आगे बढ़ा दी। तभी जिला चिकित्सालय के पास ग्राम खरोरा के पास तस्करों की कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर से जा टकराई। उसी समय पीछे से आ रही पुलिस की टीम ने तस्करों को पकड़ लिया।

आरोपी ने बताया- दो गाड़ी और आ रही है
पकड़े गए युवक ने बताया कि पीछे दो और गाड़ियां आ रही है, जिसमें भी गांजा भरा हुआ है। आरोपियों ने बताया कि कार क्रमांक ओडी 10 एन 7574 व एक पिकअप एपी 31 टीटी 1911 में भी उनके साथी सवार है, जो गांजा लेकर आ रहे हैं। सूचना पर टीम ने एनएच-353 पर घेराबंदी कर एक कार और एक पिकअप काे पकड़ लिया। वाहनों में सवार रंजन खोरा व एक नाबालिग को पकड़ा। इस कार से टीम ने 50 किलोग्राम गांजा जब्त हुआ। वहीं एक और टीम को आंध्रप्रदेश पासिंग पिकअप वाहन से 15 बोरियों में 3 क्विंटल गांजा मिला। टीम ने पिकअप में सवार ग्राम बारनीपुट थाना जैपुर जिला कोरापुट ओडिशा निवासी संतोष दौरा पिता नकुल दौरा और जयसिंह को गिरफ्तार किया।

एक खेप पहुंचाने के मिलते हैं 35 हजार
पूछताछ में पुलिस को जो जानकारी मिली है, उसके अनुसार पकड़े गए सभी आरोपी मुख्य गांजा तस्करों के संपर्क में रहते हैं। ये केवल वाहनों में गांजा भरकर निर्धारित स्थान पर छोड़ने का काम करते हैं। इसके लिए उन्हें 35 हजार रुपए प्रति ट्रिप के हिसाब से रुपए दिए जाते हैं। आरोपियों ने बताया कि इस बार उन्हें बताया गया था कि रायपुर के तेलीबांधा के पास माल छोड़ना है, जहां से दूसरी गाड़ी में माल लोड होता और उसे सतना एमपी भेजा जाता। तस्करों में दो नाबालिग भी मिले हैं। आरोपियों ने बताया कि गाड़ी की फ्रंट सीट पर बैठे नाबालिग केवल निगरानी करते हैं। साथ ही गाड़ी की फ्रंट सीट पर नाबालिग के बैठे होने पर पुलिस को गांजा तस्करी का शक नहीं होता। इसलिए साथ में नाबालिग बच्चों को रखा जाता है। इसके लिए बच्चों को 4 हजार रुपए दिया जाता है।

गांजा तस्करी का मास्टरमाइंड है संतोष, कर चुका है डकैती
आरोपी संतोष दौरा तस्करी का मास्टर माइंड है। वह इस रूट में छह बार गांजा लेकर गुजर चुका है। पकड़े गए सभी युवक दोस्त हैं। एसपी ने बताया कि मास्टर माइंड गांजा तस्कर के साथ डकैती का आरोपी भी है। मलकागिरी के पास उसने रिलायंस कंपनी के ट्रक को लूटा था। सुकमा कोंटा मार्ग में वह कई बार तस्करी की घटना को अंजाम दे चुका है। एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि इसके पकड़े जाने के बाद सतना के एक व्यक्ति और मल्कानगिरी, चित्रकोंडा एवं कोंटा क्षेत्र में गांजा मुहैया कराने वालों के नाम, नंबर और फोटो मिले हैं। लॉकडाउन के बाद कोंटा, मलकागिरी व आसपास जिले के पुलिस टीम के सहयोग से छापामार कार्रवाई करेंगे।

15 लाख की कार, 15 हजार की 3 मोबाइल जब्त
उक्त कार्रवाई में बागबाहरा थाना प्रभारी स्वराज त्रिपाठी, सउिन बिशाली राम ध्रुव, प्रधान आरक्षक सोनचंद डहरिया, ललित पटेल, श्रवण दास, आरक्षक एकलव्य बैस, हरिश साहू, महेत्तर साहू, मालिक राम ध्रुव, जितेन्द्र कुमार ठाकुर, शंकर ठाकुर, हरालाल अकोनिया, भेटनारायण सिन्हा, रूपानंद गढ़तिया, जितेन्द्र ठाकुर, संजय निषाद, पितांबर साहू, शशि दीवान शामिल थे। इन आरोपियों से 40 लाख का गांजा, 15 लाख की कार, 15 हजार की 3 मोबाइल, आधार कार्ड व एटीएम कार्ड जब्त किया है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - धर्म-कर्म और आध्यामिकता के प्रति आपका विश्वास आपके अंदर शांति और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर रहा है। आप जीवन को सकारात्मक नजरिए से समझने की कोशिश कर रहे हैं। जो कि एक बेहतरीन उपलब्धि है। ने...

और पढ़ें