विरोध-प्रदर्शन:शराबबंदी के लिए लामबंद हुईं महिलाएं, थाना घेरने की तैयारी

महासमुंद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

गांव में शराबबंदी को लेकर गांव की महिलाएं लामबंद हो गई है। महिलाओं ने शराब बेचे जाने और बढ़ते अपराध के मामले को लेकर थाना घेराव की तैयारी की है। इस संबंध में महिलाओं ने पूर्व विधायक डॉ विमल चोपड़ा से मुलाकात की है और शराबबंदी के इस अभियान के लिए चर्चा की।

मामला महामसुंद विधानसभा के ग्राम सरकड़ा है। पिथौरा ब्लॉक में स्थित ग्राम सरकड़ा की महिलाएं शराबियों तथा बढ़ते अपराध के मामलों को लेकर परेशान हैं। महिलाओं ने बताया कि गांव में अवैध रूप से शराब की बिक्री जोरों पर है। डॉ विमल चोपड़ा ने बताया कि गांव में पूर्ण शराबबंदी की मांग को लेकर तथा नशामुक्त गांव बनाने के लिए महिलाओं ने जय मां शीतला महिला कमांडो टीम गठित कर अब थाना कार्यालय में रैली निकालकर प्रदर्शन करने की तैयारी कर रही हैं।

महिलाओं से चर्चा के दौरान पूर्व विधायक डॉ चोपड़ा ने कहा कि शराब बंदी की मांग केवल गांवों तक ही सीमित नहीं है, बल्कि यह गांव, शहर तथा देश की मांग है। उन्होंने महिलाओं को सभी प्रकार की मदद का आश्वासन दिया। इस दौरान सरकड़ा निवासी रेखाबाई ठाकुर (अध्यक्ष) आशाबाई सिन्हा, केकती ठाकुर, रूदनी ठाकुर, मानो ठाकुर, लक्ष्मी भउर, कौशिल्या ठाकुर, अहिल्या ठाकुर, बीरजा ठाकुर, सुकती ध्रुव, मानमोति सेन, हीरा ठाकुर, बेदबाई विश्वकर्मा, हेमकुंवर, अनुसुईया ठाकुर, राधा ठाकुर, मंजीत बरिहा, नाथुराम सिन्हा, कन्हैया ठाकुर, मधु ठाकुर, रूद्रमणि ठाकुर, नारायण सिन्हा, आदि उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...