पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बीईओ सिंह ने कहा:वैश्विक मंच पर हिन्दी लगातार अपनी मजबूत पहचान बना रही

नगरी5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मंगलवार को हिन्दी दिवस के कार्यक्रम में उपस्थित छात्र। - Dainik Bhaskar
मंगलवार को हिन्दी दिवस के कार्यक्रम में उपस्थित छात्र।

हिन्दी दिवस पर हायर सेकंडरी दुगली में विकासखंड शिक्षा अधिकारी सतीश प्रकाश सिंह की उपस्थिति में हिन्दी दिवस मनाया गया। इस अवसर पर बीईओ सतीश प्रकाश सिंह ने उपस्थित छात्र-छात्राओं, शिक्षकों एवं ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि हिन्दी को एक सक्षम और समर्थ भाषा बनाने में अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों ने उल्लेखनीय भूमिका निभाई है।

वैश्विक मंच पर हिन्दी लगातार अपनी मजबूत पहचान बना रही है। इस अवसर पर विकासखंड शिक्षा अधिकारी सतीश प्रकाश सिंह ने समस्त विद्यालय परिवार को राजभाषा हिन्दी में संकल्पबद्ध होकर शासकीय कामकाज में हिन्दी का अधिकतम प्रयोग करने के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए पहल की थी। महात्मा गांधी ने हिन्दी को भारत की जनमानस की भाषा भी बताया था। साल 1949 में स्वतन्त्र भारत की राजभाषा के प्रश्न पर 14 सितंबर 1949 को काफी विचार-विमर्श के बाद यह निर्णय लिया गया। भारतीय संविधान के भाग 17 के अध्याय की धारा 343(1) में बताया गया है कि राष्ट्र की राज भाषा हिन्दी और लिपि देवनागरी होगी। यह निर्णय 14 सितंबर को लिया गया। इसी वजह से इस दिन को हिन्दी दिवस के रूप में घोषित कर दिया गया।

जब राजभाषा के रूप में हिंदी को चुना गया, तो गैर हिन्दी भाषी राज्य खासकर दक्षिण भारत के लोगों ने इसका विरोध किया। फलस्वरुप अंग्रेजी को भी राजभाषा का दर्जा देना पड़ा। आज के समय में हिन्दी भाषा लोगों के बीच से कहीं-न-कहीं गायब होती जा रही है और अंग्रेजी ने अपना प्रभुत्व जमा लिया है। कार्यक्रम में ग्राम पंचायत दुगली सरपंच रामकुंवर मांडवी सहित हायर सेकंडरी स्कूल दुगली में प्राचार्य प्रभा ठाकुर, संकुल समन्वयक दुगली राजेश ध्रुव, व्याख्याता दुगली ललित सोम, राजेंद्र नेताम, अजय ग्वाल, ईश्वर साहू विद्यालय के समस्त शिक्षक, कर्मचारी व अन्य उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...