पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राजिम मेला:संत समागम के लिए शासन से कोई निर्देश नहीं इसलिए वन विभाग ने ना तो जलाऊ लकड़ी मंगाई ना घास-फूस

राजिम12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

15 दिन तक चलने वाला माघी पुन्नी मेला 27 फरवरी माघ पूर्णिमा से प्रारंभ हो रहा है। इस साल यह मेला कोरोना के साए में संपन्न होगा, यानी मेले के बहुत सारे कार्यक्रमों के कटौतियां कर दी गई हंै। 40 से 50% कार्य पूरा होने को है। वन क्षेत्राधिकारी एसएस तिवारी ने बताया कि इस वर्ष अभी तक संत समागम में निर्माण करने का कोई निर्देश प्राप्त नहीं हुआ है। इस वजह से कुटिया निर्माण के लिए घास फूस नहीं मंगाया गया है और न हीं जलाऊ लकड़ी मंगाई गई है। 2 जलकुंड बनाए जा रहे हैं। इसमें एक 50 गुणित 50 मीटर का जलकुंड बनकर तैयार हो गया है। माघी पुन्नी के 1 दिन पूर्व धार जलकुंड में पहुंच जाएगी। ऐसा माना जा रहा है कि इस वर्ष सरकार कोरोना के चलते साधु-संतों को आमंत्रित करने की मनःस्थिति में नहीं है पर जो साधु संत खुद होकर पहुंचेंगे उनका आतिथ्य सत्कार जरूर किया जाएगा। खाद्य विभाग ने इस वर्ष महामारी को ध्यान में रखते हुए दाल भात सेंटर की संख्या घटाकर 10 से 15 कर दी है। (संबंधित खबर पेज 14 पर)

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आर्थिक योजनाओं को फलीभूत करने का उचित समय है। पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी क्षमता अनुसार काम करें। भूमि संबंधी खरीद-फरोख्त का काम संपन्न हो सकता है। विद्यार्थियों की करियर संबंधी किसी समस्...

    और पढ़ें