पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इतनी बड़ी कार्रवाई:खनिज विभाग ने कलेक्टर को आरंग दौरे के दौरान शिकायत मिलने का हवाला दिया

नवारापाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

खरोरा से प्राप्त समाचार के अनुसार आरंग परिक्षेत्र में रेत के अवैध भंडारण एवं अनुमति प्राप्त भंजडारणकर्ता द्वारा अनुमति मात्रा से अधिक रेत का भंडारण करने वालों पर खनिज विभाग की एक ही दिन में इतनी बड़ी कार्रवाई का यह पहला मामला है। खनिज अफसर ने हालांकि कलेक्टर के आरंग दौरे के दौरान शिकायत मिलने का हवाला दिया है पर सूत्र बताते हैं कि सारे खेल में राजनीति का पुट भी शामिल है। आरंग अंतर्गत आने वाले पारागांव, लखोली, राटाखाट समेत अन्य जगहों पर माइनिंग अफसरों ने 27 जगहों पर कार्रवाई की है।

जिला खनिज अधिकारी हरकेश मारवा ने बताया कि 10 जून से रेत घाट बंद हो चुके थे। उन्होंने बताया कि रायपुर जिले के कलेक्टर सौरभ कुमार के निर्देश पर टीम का गठन किया गया था। उन्होंने बताया कि अवैध रूप से भंडारण कर माफिया के लोग रेत ऊंचे दामों पर बेचने की तैयारी में थे। शनिवार को ऐसे ही लोगों पर कार्रवाई की गई है। विभागीय सूत्रों के मुताबिक ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में रेत माफिया आरंग समेत विभिन्न जगहों पर लगातार अवैध रूप से रेत भंडारण कर रहा था, जिसकी शिकायतें भी मिल रही थीं। 17 जून को कलेक्टर सौरभ कुमार को आरंग दौरे के दौरान भी कुछ लोगों ने उनसे शिकायत की थी, जिसमें वाहन चलने से रोड खराब होने तथा रात में नींद में खलल पड़ने का उल्लेख था। ग्रामीणों ने उन्हें बताया था कि कुछ लोग रात के अंधेरे में अवैध रेत भंडारणकर रहे हैं। इसके बाद कलेक्टर ने जांच दल बनाकर कार्रवाई करने को कहा था। जांच टीम में हेलेंद्र स्वर्णपाल, माइनिंग इंस्पेक्टर रायपुर समेत कई लोगों की सहभागिता रही।

खबरें और भी हैं...