CG में सिर्फ 62% को दोनों टीके:पिछले सप्ताह रायपुर में 121 लोग कोरोना पॉजिटिव मिले थे; उनमें से 27 ने नहीं ली थी एक भी डोज

रायपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अब हवाई अड्‌डे और रेलवे स्टेशनों पर भी कोरोना जांच में सख्ती शुरू होगी। - Dainik Bhaskar
अब हवाई अड्‌डे और रेलवे स्टेशनों पर भी कोरोना जांच में सख्ती शुरू होगी।

छत्तीसगढ़ में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लापरवाही की परतें भी खुल रही है। सामने आ रहा है कि कोरोना पॉजिटिव पाए जा रहे लोगों में कई लोग ऐसे हैं जिन्होंने कोरोनारोधी टीके की एक भी खुराक नहीं लगवाई है। सामने आया है, पिछले सप्ताह रायपुर में जिले में 121 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से 27 ऐसे लोग भी शामिल हैं जिन्होंने कोरोनारोधी टीके की कोई खुराक नहीं लगवाई है। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक पूरे छत्तीसगढ़ में केवल 62% लोगों को टीके की दोनों खुराक लग पाई है।

कोरोना संक्रमण और ओमिक्रान वेरिएंट के खतरे की समीक्षा के लिए शनिवार को हुई बैठक में कलेक्टर सौरभ कुमार के सामने भी यह मामला आया। CMHO डॉ. मीरा बघेल से यह रिपोर्ट जानने के बाद कलेक्टर सौरभ कुमार ने इस प्रवृत्ति पर चिंता जताई। उन्होंने कहा, कोरोना संक्रमण के रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए सभी लोग अनिवार्य रूप से वैक्सीनेशन कराएं। वैक्सीनेशन नहीं कराए लोगों से कोरोना संक्रमण के प्रसार में वृद्धि होती है।

उन्होंने कहा, ऐसे लोग जिन्हें पहला डोज लग चुका है वे अनिवार्य रूप से दूसरा डोज लगवाएं। उन्होंने इसके लिए नगर निगम और पुलिस विभाग के अधिकारियों को भी कार्रवाई सुनिश्चित करने को कहा। उन्होंने पूर्व में बनाए गए कोविड कंट्रोल रूम को फिर से एक्टिव करने तथा 24 घंटे और सातों दिन काम करने को कहा है। इस कंट्रोल रूम के जरिए लोगों को कोविड-19 के संबंध में महत्त्वपूर्ण जानकारी देने और समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए गए हैं। कलेक्टर ने होम आइसोलेशन के मरीजों के लिए निर्धारित प्रक्रिया का पालन कराने को भी कहा। रायपुर में अभी 149 सक्रिय मरीज हैं। शुक्रवार को ही यहां 51 नए मरीजों का पता चला है।

रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार ने स्वास्थ्य विभाग, राजस्व और नगर निगम और पंचायत के अधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा की है।
रायपुर कलेक्टर सौरभ कुमार ने स्वास्थ्य विभाग, राजस्व और नगर निगम और पंचायत के अधिकारियों के साथ हालात की समीक्षा की है।

फुंडहर का कोविड सेंटर फिर शुरू होगा
कलेक्टर सौरभ कुमार ने फुंडहर को कोविड-19 सेंटर फिर से शुरू करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा, वर्तमान में लक्षण रहित ऐसे मरीज जो घर में परिवार से अलग रहना चाहते है, उनके लिए यह सेंटर फिर से शुरू हो जाए। इसी तरह प्रथम चरण में माना और जिला चिकित्सालय पंडरी को कोविड अस्पताल के रूप में संचालित किया जाएगा।

कोरोना जांच का दायरा बढ़ाया जाएगा
नए निर्देशों के बाद जिले में कोरोना जांच का दायरा बढ़ाया जा रहा है। कलेक्टर ने एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन, मार्केट एरिया तथा अस्पतालों की ओपीडी में आने वालों की कोरोना जांच कराने को कहा है। इसके अलावा भीड़भाड़ वाली प्रमुख जगहों और बाजारों में भी कोरोना का टेस्ट शुरू करने को कहा गया है। कलेक्टर सौरभ कुमार ने कोरोना टेस्टिंग एवं इसकी रिपोर्ट, बिस्तर की उपलब्धता, कंटेनमेंट जोन, ट्रेसिंग से छूटने वाले लोगों की जानकारी प्रतिदिन प्रस्तुत करने के निर्देश दिए।

रायपुर के कॉलेजों में भी लगेगा टीका:पहले सप्ताह के लिए रोस्टर तय, 3 जनवरी को चार कॉलेजों में लगेगा शिविर

छत्तीसगढ़ में न्यू ईयर पार्टी बैन:रायगढ़-कोरबा में पार्टी पर पूरी तरह से प्रतिबंध; बाकी प्रदेश में क्षमता से 33% ही लोग जुट सकेंगे

एक भी केस मिला तो पूरा गांव बनेगा कंटेनमेंट जोन:कोरोना पर नई गाइडलाइन; हर जिले के 5% नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग होगी

खबरें और भी हैं...