पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

छत्तीसगढ़ में कोरोना:पहली बार एक दिन में 380 स्वस्थ, अंबेडकर अस्पताल कैंटीन के आठ कर्मचारी समेत 235 नए केस, एक महिला की मौत

रायपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अंबेडकर अस्पताल में 400 मरीजों के बीच जब पहली बार ड्यूटी करने डांस करते ये नर्सें वार्ड में पहुंचीं और बोलीं- कोरोना से डरो ना, हम हैं ना। कंटेंट/फोटो-पीलूराम साहू
  • रायपुर में 9 दिन बाद 100 से कम 98 मरीज मिले
Advertisement
Advertisement

रायपुर में शनिवार को कोरोना के 98 समेत प्रदेश में 235 नए मरीज मिले हैं। राजधानी में 9 दिन बाद 100 से कम मरीज मिले हैं। प्रदेश में पहली बार एक दिन में 380 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। हॉट स्पॉट शदाणी दरबार में एक 75 वर्षीय महिला की मौत हो गई। शदाणी दरबार में यह दूसरी मौत है। इस मौत के साथ ही रायपुर में 26 व प्रदेश में कोरोना से 56 लोगों की मौत हो चुकी है। दुर्ग से 53, बिलासपुर से 9, राजनांदगांव व जांजगीर-चांपा से 8-8, सरगुजा से 7, कोरिया से 5, रायगढ़, बलौदाबाजार व कवर्धा से 4-4, मुंगेली से 3, बस्तर से 2, कोंडागांव, नारायणपुर, महासमुंद, बेमेतरा व बालोद से एक-एक मरीज मिले हैं। नए केस के बाद प्रदेश में मरीजों की संख्या 9427 हो गई है। एक्टिव केस 2762 है। जबकि 6610 मरीज डिस्चार्ज हो चुके हैं। पहली बार रिकार्ड 380 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। वहीं, रायपुर में अंबेडकर अस्पताल कैंटीन के 8 कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाए गए है। रायपुर में पिछले 9 दिनों से 100 से 200 मरीज मिल रहे हैं। अंबेडकर अस्पताल के कैंसर विभाग में जूडो व स्टाफ लगातार संक्रमित हो रहे हैं। पहले ही आंको सर्जरी विभाग सील कर दिया गया था। जिला अस्पताल पंडरी में संचालित ऑब्स एंड गायनी विभाग में डॉक्टरों व जरूरी स्टाफ की कमी हो गई है।

इस संबंध में कॉलेज काउंसिल की बैठक हुई। एचओडी ने डीन से शिकायत की थी कि मरीज बढ़ गए हैं और कोरोना से संक्रमित होने के कारण जरूरी स्टाफ कम हो रहे हैं। बैठक में निर्णय लिया गया कि अगर कोई डॉक्टर कोरोना से संक्रमित होता है, तो स्वस्थ होने के तुरंत बाद मरीजों का इलाज कर सकता है। जिनमें कोरोना के लक्षण है, वे तत्काल जांच करवाए। वे अपनी मर्जी से सैंपल कहीं भी न दें, बल्कि नेहरू मेडिकल कॉलेज में दें, ताकि प्राथमिकता से सैंपल जांच कर रिपोर्ट उसी दिन आ सके। वेटिंग के कारण रिपोर्ट तीन से चार दिनों में आ रही है। इस कारण मेन पॉवर की कमी हो गई है। शदाणी दरबार, मंगलबाजार में भी लगातार केस मिल रहे हैं। शदाणी दरबार में जिस महिला की मौत हुई है, वह हायपरटेंशन व डायबिटीज से पीड़ित थी। कोरोना से जून तक 14, जुलाई में 30 लोगों की मौत हो चुकी है। अगस्त के पहले ही दिन एक महिला की मौत हो गई। विशेषज्ञों के अनुसार उम्रदराज व दूसरी बीमारियों से पीड़ित मरीजों के लिए कोरोना खतरनाक साबित हो रहा है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement