जल राजमार्ग:प्रदेश में औसत से 310 फीसदी ज्यादा बारिश नदी-नाले चढ़े, गरियाबंद समेत कई रास्ते बंद

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मौसम विभाग का पूर्वानुमान- 24 घंटे में 7.7 ​​​​​​​मिमी औसत बारिश होगी, लेकिन छत्तीसगढ़ में 31.6 मिमी बरसा पानी। - Dainik Bhaskar
मौसम विभाग का पूर्वानुमान- 24 घंटे में 7.7 ​​​​​​​मिमी औसत बारिश होगी, लेकिन छत्तीसगढ़ में 31.6 मिमी बरसा पानी।
  • बारिश से धमतरी, गरियाबंद, महासमुंद और रायपुर जिले में भारी नुकसान, सरकार ने कलेक्टरों से मांगी रिपोर्ट

प्रदेश में पिछले 24 घंटे की बारिश से नदी-नाले तो उफान पर आ ही गए, गलियों में तो पानी भरा ही, लेकिन नेशनल हाईवे में भी पांच फीट तक पानी भर गया। इसके चलते गरियाबंद राष्ट्रीय राजमार्ग को बंद करना पड़ा। धमतरी, गरियाबंद, महासमुंद और रायपुर जिले में भारी बारिश से काफी नुकसान हुआ है।

सरकार ने यहां के कलेक्टरों से रिपोर्ट मांगी है। बस्तर और रायपुर संभाग के कुछ जिलों में एक दिन के औसत से 10 गुना (एक हजार प्रतिशत ज्यादा) बारिश हो चुकी है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान था कि 14 सितंबर को 7.7 मिमी औसत बारिश होगी, लेकिन 31.6 मिमी हुई।

यानी पूरे प्रदेश में 24 घंटे में 31.6 मिमी बारिश हुई है। यह सितंबर में एक दिन के औसत से 310% अधिक है। पिछले तीन दिन से तेज हुई मानसूनी गतिविधियों और लगातार बारिश की वजह से प्रदेशभर में नदी-नालों का जलस्तर चढ़ने लगा है और पुलों के करीब पहुंच है।

एनएच के ऊपर पहले 5 फीट था पानी, बाद में कम हुआ जलस्तर

देवभोग/राजिम/भाटापारा | सिकासेर व सोंढूर जलाशय का पानी सोमवार रात पनटोरा पॉइंट पर टकराना शुरू हो गया। आधी रात से यहां जल स्तर बढ़ता गया। मंगलवार दोपहर 3 बजे नेशनल हाईवे-130 सी के ऊपर 5 फीट पानी बहने लगा। इससे पहले दो फीट बह रहा था। वहीं बारिश से त्रिवेणी संगम नदी के मध्य स्थित कुलेश्वर मंदिर चारों ओर से बाढ़ के पानी से घिर गया है। 30 फीट ऊंची चौड़ी में से मात्र 5 फीट चौड़ी डूबने के लिए बचा है।

सिकासेर बांध के 17 गेट खोले

गरियाबंद जिले के सिकासेर बांध के 17 गेट खोल दिए गए हैं। इसके साथ ही आसपास के गांवों को अलर्ट किया गया है। राज्य कंट्रोल रूम ने राजिम के पास एक टापू में फंसे 10 लोगों को बचाने की सूचना दी है। पानी भरने से कई गांवों के भी कटने की अपुष्ट सूचना है। सरकार ने सभी कलेक्टरों से विस्तृत रिपोर्ट मांगी है।

अभी और बारिश

छत्तीसगढ़ और आसपास से दो द्रोणिकाएं गुजर रही हैं। इनके असर से 15 सितंबर को भी बारिश के आसार हैं। दुर्ग और बिलासपुर संभाग में ज्यादा बारिश की उम्मीद है।

खबरें और भी हैं...