पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

परीक्षा परिणाम:दसवीं में 90% या उससे अधिक नंबर पाने वाले 3917 छात्र, कई मामूली अंतर से मेरिट से चूके

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो।
  • रीवैल के नतीजों के बाद मेरिट में बदलाव संभव, 12वीं में भी 221 छात्रों ने पाए 90% से ज्यादा नंबर

दसवीं बोर्ड में इस बार न सिर्फ टॉप-10 की मेरिट में अधिक छात्रों ने जगह बनायी है, बल्कि 90 प्रतिशत या उससे अधिक नंबर पाने वाले भी बढ़े हैं। इस बार 3917 छात्रों को 90 प्रतिशत या उससे अधिक नंबर मिला है। इसमें से कई छात्र ऐसे हैं जो मामूली नंबरों के अंतर से मेरिट से बाहर हुए हैं। इसे लेकर यह संभावना बनी है कि इस बार फिर रीवैल व रीटोटलिंग के नतीजों के बाद जब अंतिम मेरिट लिस्ट जारी होगी तो उसमें बदलाव हो सकता है।
मेरिट में कुछ नए छात्रों को जगह मिल सकती है। अभी अस्थायी मेरिट लिस्ट जारी हुई है। इसमें टॉप-10 में 42 छात्र हैं। सभी छात्र 15 नंबराें के अंतर में हैं। इसमें भी 36 टॉपरों में अंकों का अंतर सिर्फ 5 है। शिक्षाविदों ने बताया कि इस बार दसवीं बोर्ड में 73.62 प्रतिशत छात्र पास हुए। पिछले साल की तुलना में इस बार रिजल्ट 5.42 फीसदी ज्यादा रहा। इसमें प्रथम श्रेणी से पास होने वाले छात्रों की संख्या 1,26,384 रही। इसमें से 3917 छात्र 90 प्रतिशत और उससे अधिक नंबर पाने में कामयाब रहे। इसके अलावा कई छात्र ऐसे भी रहे जिन्हें 85 से लेकर 90 प्रतिशत तक नंबर प्राप्त हुआ। जेएन पांडेय गवर्नमेंट स्कूल हो या फिर दानी गर्ल्स स्कूल या फिर मायाराम सुरजन स्कूल। यहां के कई 90 प्रतिशत से अधिक नंबर पाने में सफल रहे। कई कुछ नंबर से मेरिट से चूके हैं। 
16 छात्रों को मिली मेरिट में जगह
दसवीं की तरह बारहवीं में भी कई छात्र टॉप-10 की मेरिट से चूके हैं। इस बार 16 छात्रों को मेरिट में जगह मिली है। जबकि 221 छात्र ऐसे रहे जिन्होंने 90 प्रतिशत या उससे अधिक नंबर प्राप्त किया। शिक्षाविदों का कहना है कि इस बार भी रीवैल व रीटोटलिंग के बाद मेरिट में बदलाव हो सकता है। इसमें नए छात्रों को जगह मिल सकती है। गौरतलब है कि पिछले कई बरसों से यह देखा गया है कि रीवैल व रीटोटलिंग के नतीजों के बाद जब अंतिम मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है तो इसमें बदलाव होता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कड़ी मेहनत और परीक्षा का समय है। परंतु आप अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल रहेंगे। बुजुर्गों का स्नेह व आशीर्वाद आपके जीवन की सबसे बड़ी पूंजी रहेगी। परिवार की सुख-सुविधाओं के प्रति भी आपक...

और पढ़ें