कॉलेजों में सीटें बचीं तो बढ़ सकती है तारीख:काॅलेजों में 50 हजार सीटें खाली आज अंतिम दिन प्रवेश ओपन

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश के काॅलेजों में बीएस, बीकाॅम, बीएससी तथा अन्य यूजी कोर्स के फर्स्ट इयर की 50 हजार सीटें अब तक खाली हैं और गुरुवार, 30 सितंबर को प्रवेश की आखिरी तारीख है। ज्यादा से ज्यादा सीटें भरें, इसलिए शासन ने गुरुवार को एक दिन के लिए दाखिले की प्रक्रिया को एकदम शिथिल करते हुए कालेजों में ओपन काउंसिलिंग के निर्देश दे दिए हैं।

दैनिक भास्कर ने आज ही इतनी बड़ी संख्या में सीटें खाली रहने का मामला उठाया है और सरकार ने पहली बार तय किया है कि 30 सितंबर के बाद खाली बची सीटों की समीक्षा की जाएगी। अगर यह संख्या अधिक रहती है तो कालेजों में दाखिले की तारीख और बढ़ाते हुए प्रक्रिया भी थोड़ी शिथिल की जा सकती है। पं. रविशंकर शुक्ल विवि, बिलासपुर विवि, दुर्ग विवि, बस्तर और सरगुजा विवि में ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर की ही करीब 50 हजार से ज्यादा सीटें खाली है। पीजी में भी बड़ी संख्या में सीटें भर नहीं पाई हैं, खासकर आर्ट्स में दाखिले कम हैं।

गुरुवार को प्रवेश के लिए आखिरी दिन है। सीटें भरने के लिए कॉलेजों में ओपन काउंसिलिंग होगी। इसके बाद यह संख्या सामने आएगी कि इस बार कितनी सीटें भरी और कितनी खाली रह गई। रविवि ने कॉलेजों से प्रवेश के संबंध में जानकारी मांगी है। अफसरों का कहना है कि प्रवेश के 30 अंतिम तारीख है। कॉलेजों से कहा गया है कि वे 1 अक्टूबर तक बताएं कि उनके यहां कितने छात्रों ने प्रवेश लिया है और कितनी सीटें खाली है। गौरतलब है कि ग्रेजुएशन फर्स्ट ईयर में प्रवेश के लिए इस बार 2 अगस्त से आवेदन मंगाए गए। इसके अनुसार पहली लिस्ट 18 अगस्त को जारी हुई। कॉलेजों में सात-आठ बार मेरिट लिस्ट जारी होने के बाद भी सीटें खाली है। इसीलिए ऑनलाइन आवेदन की अनिवार्यता पहले ही खत्म की जा चुकी है।

प्रमुख कॉलेजों में रहेगी भीड़
शहर के प्रमुख कॉलेज जैसे, साइंस कॉलेज, छत्तीसगढ़ कॉलेज, डीबी गर्ल्स कॉलेज, गर्ल्स कॉलेज देवेंद्र नगर के अलावा कुछ प्राइवेट कॉलेज भी हैं। गुरुवार को प्रवेश का आखिरी दिन है, इसलिए इन कॉलेजों में प्रवेश को लेकर भीड़ रहेगी। सरकारी कॉलेजों मे तो साइंस में कुछ ही सीटें बची है। वह भी आरक्षित वर्ग की। हालांकि, प्रवेश के आखिरी दिन यह सीटें कनवर्ट होगी। इसके अनुसार प्रवेश दिए जाएंगे। प्राइवेट कॉलेजों में बड़ी संख्या में आर्ट्स की सीटें खाली है।

खाली सीटों का रिव्यू: उमेश
प्रदेश के कॉलेजों में सीटें बढ़ाई हैं, इसलिए एडमिशन की तारीख भी 30 सितंबर तक बढ़ाई थी। अब सीटें खाली रहने की सूचना मिल रही है।इसलिए तय किया है कि बची हुई सीटें और कुल एडमिशन का 5 अक्टूबर से पहले रिव्यू करेंगे और जरूरत के अनुसार निर्णय लेंगे।
-उमेश पटेल, मंत्री, उच्च शिक्षा विभाग

खबरें और भी हैं...