पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

छत्तीसगढ़ में 10 हजार मौतें:पिछले 25 दिन में ही 5000 मौतें, प्रदेश में फिलहाल मृत्युदर 1.2 प्रतिशत है

रायपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना से मरने वालों की संख्या 10000 को पार कर गई। पहली मौत 29 मई 2020 को हुई थी, तब से अब तक 344 दिनों में 10158 कोरोना मरीजों की मौत हुई है। 12 अप्रैल तक 5000 मरीजों की मौत हुई थी और इसके 25 दिनों बाद यानी 7 मई को मौतों की संख्या डबल हो गई। 320 दिनों में 5000 मरीजों की मौत हुई थी।

प्रदेश में फिलहाल मृत्युदर 1.2 प्रतिशत है, जो कि राष्ट्रीय औसत जितनी ही है। कोरोना से हुई पहली मौत से अब तक अगर 344 दिनों का औसत निकाला जाए, तो यह रोजाना 29.36 यानी लगभग 30 मौतों का है। इस अवधि में राजधानी में 2732 लोगों की कोरोना से मृत्यु हो चुकी है। 344 दिन के हिसाब से ही यह औसत भी रोजाना 8 लोगों का है। प्रदेश में भले ही मरीजों की संख्या थोड़ी-थोड़ी कम हो रही है, लेकिन मौतें नहीं रुक रही हैं। हालांकि राजधानी में मौतों की संख्या में उतार-चढ़ाव जारी है। अंबेडकर अस्पताल में क्रिटिकल केयर प्रभारी डॉ. ओपी सुंदरानी व हिमेटोलॉजिस्ट डॉ. विकास गोयल के अनुसार अभी रिफरल केस ज्यादा आ रहे हैं, जो काफी गंभीर रहते हैं। उन्हें तत्काल ऑक्सीजन बेड या वेंटीलेटर की जरूरत होती है। कई केस ऐसे आते हैं, जिसमें मरीज देरी से जांच व अस्पताल पहुंचने के कारण गंभीर हो रहे हैं।

40 फीसदी आरटीपीसीआर जांच, बढ़ाने की जरूरत
प्रदेश में 40 फीसदी आरटीपीसीआर जांच की जा रही है। इसकी संख्या बढ़ाने की तैयारी की जा रही है। अब तक 28 लाख 15 हजार 701 सैंपलों की आरटीपीसीआर जांच व 47 लाख 30 हजार 234 से ज्यादा सैंपलों की एंटीजन किट से जांच की गई है। वहीं 10 लाख की आबादी पर 2116 सैंपलों की जांच की जा रही है। अभी तक 76 लाख सैंपलों की जांच की जा चुकी है। 30 अप्रैल से 7 मई तक 4.5 लाख सैंपलों की जांच की गई है। इस दौरान प्रतिदिन औसतन 57008 से ज्यादा सैंपलों की जांच की गई। कांकेर व महासमुंद में नई लैब खुलने से आरटीपीसीआर जांच में तेजी आई है। प्रदेश के 9 अन्य जिला मुख्यालयों में वायरोलॉजी लैब शुरू करने की तैयारी चल रही है।

प्रदेश में 13628, रायपुर में 818 नए मरीज मिले
पिछले चौबीस घंटे में रायपुर में 818 समेत प्रदेश में 13628 नए मरीज मिले हैं। रायपुर में 40 समेत प्रदेश में 208 मरीजों की मौत भी हुई है। जहां तक जांच का सवाल है, प्रदेश में शुक्रवार को 61939 जांच हुई है। पिछले एक माह से जांच का औसत लगभग यही है। हालांकि बीच-बीच में 60 हजार के अासपास भी जांच हुई है। अप्रैल में इतनी ही जांच में औसतन प्रदेश में 15 से 16 हजार मरीज निकल रहे थे। यह अब थोड़े घटकर 12 से 13 हजार के बीच अा गए हैं।

खबरें और भी हैं...