पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रायपुर:पिल्लै-विज के प्रमोशन के लिए 7 माह पहले ही मंजूरी, आदेश नहीं

रायपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रमन सरकार ने 2018 में किया था प्रमोशन, 2019 में पदोन्नति वापस ली गई थी

प्रदेश के दो सीनियर आईपीएस को डायरेक्टर जनरल के पद पर प्रमोट करने के लिए केंद्र ने दिसंबर में ही अनुमति दे दी है, लेकिन सरकार ने अब तक उन्हें प्रमोट नहीं किया। दोनों की वजह से आधा दर्जन और अफसरों का प्रमोशन रुक गया है। इसके बाद राज्य सेवा के दर्जनभर अफसरों का आईपीएस अवार्ड भी होना है। गृह विभाग के अफसर इस मसले पर कोई जानकारी देने से भी बच रहे हैं।

रमन सरकार ने 1988 बैच के आईपीएस संजय पिल्लै, आरके विज और मुकेश गुप्ता को अक्टूबर 2018 में डीजी के पद पर प्रमोट किया था। उस समय एएन उपाध्याय डीजीपी थे। उनसे सीनियर गिरधारी नायक डीजी जेल व होम गार्ड्स थे और डीएम अवस्थी स्पेशल डीजी नक्सल ऑपरेशन थे।

कांग्रेस सरकार बनने के बाद सितंबर 2019 को पिल्लै, विज और गुप्ता के प्रमोशन को केंद्र सरकार की सहमति नहीं होने के कारण निरस्त किया गया। हालांकि इसके बाद पिल्लै और विज के लिए केंद्र से अनुमति मांगी गई, जो दिसंबर में मिल गई, लेकिन उन्हें प्रमोशन नहीं दिया गया है। फिलहाल राज्य में डीजीपी अवस्थी के अलावा उनसे एक साल जूनियर स्वागत दास ही डायरेक्टर जनरल रैंक के हैं। दास इंटेलिजेंस ब्यूरो में एडिशनल डायरेक्टर हैं। ऐसी स्थिति में डीजी रैंक के तीन पद खाली हैं।

अशोक जुनेजा भी अब डीजी के लिए पात्र

दो सीनियर आईपीएस के प्रमोशन पर फैसला नहीं होने के कारण सबसे ज्यादा नुकसान अशोक जुनेजा को हो रहा है। जुनेजा 89 बैच के आईपीएस हैं और एडीजी नक्सल ऑपरेशन की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। पिछले साल ही वे 30 साल की सेवा पूरी कर डायरेक्टर जनरल पद के लिए पात्र हो गए हैं, लेकिन उनके प्रमोशन के लिए प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है। आईजी प्रदीप गुप्ता का एडीजी प्रमोशन अटका हुआ है। इसी तरह टीआर पैकरा आईजी और आरएन दाश, बीएस ध्रुव व टी. एक्का का डीआईजी पद पर प्रमोशन लंबित है। इस पर भी गृह विभाग की ओर से कार्यवाही शुरू नहीं की गई है।

रापुसे के अफसरों को आईपीएस अवार्ड प्रक्रिया में

राज्य पुलिस सेवा 98 और 99 बैच के आधा दर्जन अफसरों को आईपीएस अवॉर्ड हो सकता है। गृह विभाग रिक्त 6 पदों की पदोन्नति के लिए प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने की तैयारी कर रही है। राज्य पुलिस सेवा के ये अफसर राप्रसे के अफसरों से पिछड़ गए हैं। इसी बैच के राज्य प्रशासनिक सेवा के अफसर चार साल पहले ही आईएएस हो चुके हैं। 6 पदों के लिए 18 अफसरों के नाम भेजे जाएंगे। इनमें से उमेश चौधरी वरिष्ठता क्रम में सबसे ऊपर हैं। जिन अफसरों का नाम आईपीएस अवॉर्ड के लिए भेजा जा रहा है। उनमें चौधरी के अलावा मनोज कुमार खिलारी, रवि कुमार कुर्रे, सुरजनराम भगत, झाडूराम ठाकुर, प्रफुल्ल कुमार ठाकुर, राजेन्द्र प्रसाद भर्ईया, विजय कुमार पाण्डेय, पंकज चंद्रा, भावना पाण्डेय, वीके बैस, हरीश राठौर, देवव्रत सिरमौर, राजश्री मिश्रा, श्वेता श्रीवास्तव सिन्हा और संतोष महतो शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि पंकज चंद्रा और प्रफुल्ल ठाकुर वर्तमान में एसपी हैं। बाकी भी उच्च पदों पर हैं। माना जा रहा है कि अगले कुछ दिनों में विभागीय प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेज दिया जाएगा। इसके बाद यूपीएससी सदस्य की मौजूदगी में समिति में डीपीसी होगी। राज्य की तरफ से एसीएस सुब्रत साहू और डीजीपी डीएम अवस्थी रहेंगे।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें