एजेंसी कर्मी पीतल की बांसुरी से चुरा रहे थे LPG:रायपुर में खाद्य विभाग की टीम ने गोदाम पर छापा मारकर कर्मचारियों को पकड़ा, 1171 सिलेंडर जब्त किए

रायपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इन सिलेंडर्स को बरामद किया गया। - Dainik Bhaskar
इन सिलेंडर्स को बरामद किया गया।

रायपुर शहर के लोगों को पिछले कई दिनों से घरेलू गैस सिलेंडर में LPG कम मिल रही थी। खुद एजेंसी गैस इसकी चोरी करवा रही थी। पीतल की बांसुरी से गैस निकालकर दूसरे सिलेंडर में भरने का खेल लंबे वक्त से चल रहा था। अब खाद्य विभाग की टीम ने एजेंसी पर कार्रवाई करते हुए 1171 गैस सिलेंडर जब्त किए हैं। यह पूरा मामला बीरगांव की अमर इंडेन गैस एजेंसी का है। एजेंसी के कर्मचारी बड़े ही प्रोफेशनल तरीके से LPG चुराने का खेल कर रहे थे।

कार्रवाई में जब्त सिलेंडर।
कार्रवाई में जब्त सिलेंडर।

गुरुवार शाम जिला खाद्य विभाग की टीम ने गैस एजेंसी के ठिकानों पर छापा मारा। जिला खाद्य नियंत्रक तरुण राठौर ने बताया कि खाद्य विभाग को लगातार इस बात की शिकायत मिल रही थी कि बीरगांव इलाके में लोगों के घरों में घरेलू गैस सिलेंडर का वजन कम पहुंच रहा है। लोगों की रसोई में भी गैस सिलेंडर जल्द खत्म होने की शिकायत मिल रही थी। इस इनपुट के आधार पर खाद्य विभाग की टीम ने छापा मारने का प्लान बनाया और अमर गैस एजेंसी के लोगों को गैस चुराते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया।

पीतल की बांसुरी से निकालते थे LPG
खाद्य विभाग के अफसरों ने बताया कि अमर गैस एजेंसी ने उरकुरा स्थित एक प्लॉट पर खुला गोदाम बना कर रखा गया था। यहां पर करीब 360 गैस सिलेंडर रखे गए थे। छापा मारने पहुंचे अफसरों ने देखा कि गैस एजेंसी के ही दो कर्मचारी घरेलू गैस सिलेंडर से पीतल की बांसुरी के जरिए सिलेंडर लीक कर रहे थे। कैप को निकालकर 191 घरेलू गैस सिलेंडर में से लगभग 272 किलो गैस निकाल चुके थे। चोरी की हुई LPG को एक अलग सिलेंडर में भरा जा रहा था, ताकि इसे अवैध तरीके से बेचा जा सके।

5 गाड़ियों में भरे सैकड़ों सिलेंडर में से चोरी का खेल जारी था। विभाग की टीम ने सभी को जप्त कर लिया। छापा मारने पहुंची टीम यहीं नहीं रुकी इसके बाद अमर गैस एजेंसी के नंदनवन इलाके के गोदाम में जाकर जांच की गई। यहां भी 191 सिलेंडर में वजन कम पाया गया। अफसरों ने यह भी पाया कि गैस सिलेंडर के स्टॉक रजिस्टर में दर्ज संख्या और एजेंसी के पास मौजूद स्टॉक में काफी अंतर था। टीम ने गैस एजेंसी के पास रखें 1171 सिलेंडर को जप्त कर लिया। अब अमर इंडियन गैस एजेंसी के प्रबंधक के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

आप इससे बचने ये जरूर करें
गैस गोदाम में सिलेंडर वजन करने के लिए तराजू या वजन करने वाली मशीन लगी रहती है। गोदाम से सिलेंडर लेते वक्त इसका वजन जांचा जा सकता है। घर पर जब डिलीवरी ब्वॉय सिलेंडर देने आता है तो सिलेंडर का आप वजन कर सकते हैं। डिलीवरी ब्वॉय के पास भी वजन करने वाली मशीन होती है। खाली सिलेंडर की बात करें तो एक घरेलू खाली सिलेंडर में 15.3 किलोग्राम वजन होता है। सिलेंडर लेते वक्त 14.2 किलोग्राम रसोई गैस और 15.3 किलोग्राम खाली सिलेंडर के वजन के साथ सिलेंडर चेक कर लें। यानी जब आप सिलेंडर लें तो ध्यान रखें कि सिलेंडर का पूरा वजन 29.5 किलो होना चाहिए। इससे कम वजन हुआ तो आप शिकायत कर सकते हैं सिलेंडर लेने से इंकार कर सकते हैं।